ध्वजारोहण के बाद बोले योगी- ‘राज्य में जातिवाद और भ्रष्टाचार की कोई जगह नहीं’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में कहा कि राज्य में जातिवाद और भ्रष्टाचार की कोई जगह नही है। उन्होंने इस अवसर पर मंगलवार को राजधानी लखनऊ में तिरंगा फहराया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने देश के शहीदों को नमन किया श्रद्धांजलि दी।

योगी आदित्यानाथ ने ध्वजारोहण के बाद संबोधन में कहा, “देश के विकास का रास्ता उत्तर प्रदेश से ही होकर गुजरता है।” उन्होंने इस मौके पर इशारों ही इशारों में गोरखपुर हादसे के लिए इंसेफेलाइटिस को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि इंसेफेलाइटिस का खात्मा स्वच्छता से ही किया जा सकता है।

{ यह भी पढ़ें:- ट्रेनी IAS को भाजपा सांसद की धमकी- ऐसा नहीं किया तो जीना मुश्किल कर देंगे }

योगी ने इस मौके पर 1857 की क्रांति को याद करते हुए कहा कि आजादी का पहला संग्राम उत्तर प्रदेश की भूमि से ही शुरू हुआ। स्वतंत्रता दिवस आत्मचिंतन करने तथा महान देशभक्तों के सपनों को पूरा करने का अवसर देता है। उन्होंने कहा कि भारत को विकसित, समृद्ध करना है तो इसका रास्ता सिर्फ उत्तर प्रदेश से होकर गुजरता है। उत्तर प्रदेश की 22 करोड़ की जनता का विकास होने से ही देश का विकास संभव है।

योगी ने कहा कि आज का दिन संकल्प लेने का भी है। संकल्प एक साथ मिलकर भारत और प्रदेश की उन्नति करने का है। योगी ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि हमे देश के संविधान के अधीन ही काम करना होगा। देश की सीमाओं की रक्षा के लिए जवानों ने अपना सब कुछ न्यौछावर किया है। हमें उनकी कुबार्नी को बनाए रखना होगा।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के युवा खिलाड़ियों को राष्ट्रीय पहचान दिलाएगा मेधज स्पोर्टस क्लब }

उन्होंने कहा कि हमें संकल्प लेना होगा, जिसमें 2017 से 2022 तक राज्य को देश के सर्वोत्तम प्रदेश की श्रेणी में लाना होगा। भारत आतंकवाद, जातिवाद जैसी चीजों से मुक्त हो, इसकी पहल उत्तर प्रदेश से करनी होगी।

 

{ यह भी पढ़ें:- सावधान: यहां भी लग सकता 'सांस का आपातकाल', दिल्ली की राह पर 'अमेठी' }

Loading...