दौड़ने लगी पटरी पर मेट्रो, योगी व राजनाथ ने दिखाई हरी झंडी

लखनऊ। लखनऊ वासियों को मुस्कुराने की नयी वजह मिल गयी, जाम की झंझट से हटकर आनंददायक सफर के लिए मेट्रो मिल गयी। जिसका उत्साह आम जनमानस में जमकर देखने को मिल रहा है। आज यानि मंगलवार को राज्य सरकार ने बड़ा तोहफा देते हुए शहर में मेट्रो सेवा की शुरुआत की। इसके साथ ही शहर का इंतजार खत्म हो गया है और अब लोग इस मेट्रो ट्रेन में सफर कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्रांसपोर्ट नगर स्टेशन से एक विशेष कार्यक्रम में ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। इसके बाद वह इसकी सवारी भी करेंगे। जनता मेट्रो में छह सितंबर से सफर कर सकेगी।

बताते चले कि लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन की तैयारी रविवार से ही शुरू हो गई थी। पहले चरण के कुल 8.5 किलोमीटर के इस रुट पर दीवाली जैसा नजारा दिख रहा है। जिस मेट्रो ट्रेन में सीएम योगी आदित्यनाथ व गृह मंत्री सफर करेंगे उसे विशेष तरीके से सजावट की जा रही है। योगी आदित्यनाथ व राजनाथ सिंह पहली बोगी में बैठकर ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक नॉनस्टॉप सफर किया।

लखनऊ मेट्रो के पहले चरण का काम पूरा करने में तीन वर्ष लगा। पहले चरण में मेट्रो को बनाने में चार हजार मजदूर लगे। इसका काम 790 दिन में पूरा हुआ जबकि 2 करोड़ 53 लाख 16 हजार रुपए रोज खर्च हुआ। लखनऊ मेट्रो के हर स्टेशन पर यात्रियों को मेट्रो की ऑटोबायोग्राफी सुनाई देगी। मेट्रो स्टेशन पर सुनाई देने वाले स्पेशल मेट्रो रेडियो के जरिए यह ऑटोबायोग्राफी सुनाई जाएगी।

मेट्रो की सवारी के दौरान आपको लखनऊ का रंग सहज ही दिखाई देगा। हर स्टेशन पर लखनऊ का नवाबी रंग आपको दिखाई देगा। सीनियर सिटीजन के लिए स्टेशन पर कम ऊंचाई वाले टिकट काउंटर होंगे। मेट्रो की 4 कोचों में एक हजार से अधिक लोग सवारी कर सकेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- योगी आदित्यनाथ समेत पांच मंत्रियो ने ली MLC पद की शपथ }