उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत पर सीएम योगी ने जताया दुख, कहा-फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे मामला

cm yogi
कानपुर: सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य पहुंचे अस्पताल, घायल पुलिसकर्मियों से की मुलाकात

लखनऊ। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद आरोपियों को सख्त कार्रवाई की मांग हो रही है। इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत पर दुख जताया है। सीएम योगी ने कहा है कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाया जाएगा। बता दें कि, दुष्कर्म पीड़िता ने शुक्रवार रात करीब 11:40 बजे सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया।

Cm Yogi Expresses Sorrow Over Unnaos Rape Victims Death Says Will Take The Matter To Fast Track Court :

44 घंटे तक जिंदगी की जंग लड़ने वाली पीड़िता अपने आखिरी समय में भी आरोपियों को सजा दिलाने की ही बात करती रही। गुरुवार को देर रात लखनऊ के सिविल अस्पताल से एयरलिफ्ट करके सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़िता ने इलाज के दौरान अपने भाई से आखिरी बार कहा था कि जिन्होंने मेरी ऐसी हालत की है, उन्हें छोड़ना मत। साथ ही उसने यह भी कहा था कि अभी वह मरना नहीं चाहती है।

गौरतलब है कि, गुरुवार को दुष्कर्म पीड़िता के ऊपर आरोपियों ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। इसमें पीड़िता 90 फीसदी जल गई थी। चश्मीदीदों के मुताबिक पीड़िता आग लगने के बाद करीब एक किमी तक मदद की गुहार लगाते हुए दौड़ती रही थी। यहां तक की उसने खुद ही 112 पर फोन कर पुलिस को घटना की जानकारी दी थी, जिसके बाद वहां पुलिस की टीम और एंबुलेंस पहुंची थी।

लखनऊ। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद आरोपियों को सख्त कार्रवाई की मांग हो रही है। इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत पर दुख जताया है। सीएम योगी ने कहा है कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाया जाएगा। बता दें कि, दुष्कर्म पीड़िता ने शुक्रवार रात करीब 11:40 बजे सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। 44 घंटे तक जिंदगी की जंग लड़ने वाली पीड़िता अपने आखिरी समय में भी आरोपियों को सजा दिलाने की ही बात करती रही। गुरुवार को देर रात लखनऊ के सिविल अस्पताल से एयरलिफ्ट करके सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़िता ने इलाज के दौरान अपने भाई से आखिरी बार कहा था कि जिन्होंने मेरी ऐसी हालत की है, उन्हें छोड़ना मत। साथ ही उसने यह भी कहा था कि अभी वह मरना नहीं चाहती है। गौरतलब है कि, गुरुवार को दुष्कर्म पीड़िता के ऊपर आरोपियों ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। इसमें पीड़िता 90 फीसदी जल गई थी। चश्मीदीदों के मुताबिक पीड़िता आग लगने के बाद करीब एक किमी तक मदद की गुहार लगाते हुए दौड़ती रही थी। यहां तक की उसने खुद ही 112 पर फोन कर पुलिस को घटना की जानकारी दी थी, जिसके बाद वहां पुलिस की टीम और एंबुलेंस पहुंची थी।