1. हिन्दी समाचार
  2. CM योगी ने दिये निर्देश- तीन मई से औद्योगिक इकाइयां शुरू करने की कार्ययोजना बनाएं अफसर

CM योगी ने दिये निर्देश- तीन मई से औद्योगिक इकाइयां शुरू करने की कार्ययोजना बनाएं अफसर

Cm Yogi Gave Instructions Officer To Prepare An Action Plan To Start Industrial Units From May 3

By बलराम सिंह 
Updated Date

लखनऊ। कोरोना वायरस के चलते आगामी 3 मई तक देशव्यापी लॉकडाउन है। उत्तर प्रदेश में भी कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 3 मई 2020 के बाद औद्योगिक इकाइयों चालू करने के निर्देश दिये हैं। इसके लिए उच्चाधिकारियों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं।

पढ़ें :- जाने आखिर क्यों करोड़ो की कीमत होने के बावजूद भी कोई इन घरो को एक रूपये में भी नहीं खरीदना चाहता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को लोकभवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए। पुलिस द्वारा नियमित तौर पर पेट्रोलिंग की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि हॉटस्पाट क्षेत्रों में केवल स्वास्थ्य, सफाई और होम डिलीवरी से जुड़े कर्मी ही जाएं। हॉटस्पाट क्षेत्रों में सभी घरों को सैनिटाइज किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रयागराज से वापस भेजे जा रहे प्रतियोगी छात्र-छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए।

जनपद वाराणसी, हापुड़, रामपुर, मुजफ्फरनगर और अलीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक, पुलिस एवं स्वास्थ्य अधिकारी भेजे जाएं। उन्होंने कहा कि ग्रीन जोन और ओरेंज जोन में अनुमन्य की जाने वाली गतिविधियों के लिए एक कार्य योजना बनाई जाए। महिला स्वयं सहायता समूहों को मास्क आदि के निर्माण कार्य से जोड़ा जाए। हर जिले में 15,000 से 25,000 क्षमता के क्वारंटीन सेंटर तथा आश्रय स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की प्रत्येक चेन को तोड़ना है। मेडिकल इन्फेक्शन को रोकने के लिए सभी स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाए। उन्होंने बायो-मेडिकल वेस्ट का उचित निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि जनपद स्तर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी नर्सिंग होम के संचालकों और अन्य डॉक्टरों के साथ बैठक करते हुए टेलीमेडिसिन के माध्यम से चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराने वाले डॉक्टरों की व्यवस्था करें। उन्होंने निर्देश दिए कि दूरभाष पर मरीजों को परामर्श देने वाले डॉक्टरों की सूची का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए।

बनेगा भूसा बैंक
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान समय में बड़ी मात्रा में भूसा उपलब्ध रहता है। इसके दृष्टिगत निराश्रित गोवंश के लिए गोवंश आश्रय स्थलों पर भूसा बैंक स्थापित किया जाए। प्रवासी श्रमिकों को रोजगार देने की कार्य योजना बनाई जाए। उन्होंने कहा कि निराश्रित व्यक्ति की मृत्यु होने पर शासन द्वारा अनुमन्य राशि से दिवंगत का अन्तिम संस्कार कराया जाए।

पढ़ें :- 99 % लोगो को नहीं पता होगा ट्रेन के नीले और लाल रंग के डिब्बों में क्या होता है फर्क, सवाल का जवाब पढ़ कर हिल जाएगा आपका दिमाग

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...