सीएम योगी ने किया ‘हर घर जल’ योजना की शुरूआत, बुंदेलखंड के हर घर को मिलेगा पेयजल

cm yogi
सीएम योगी ने किया 'हर घर जल' योजना की शुरूआत, बुंदेलखंड के हर घर को मिलेगा पेयजल

झांसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को झांसी पहुंचे। उन्होंने जल जीवन मिशन, उत्तर प्रदेश (हर-घर-जल) के अंतर्गत पहले चरण में बुंदेलखंड में 2185 करोड़ रुपये की 12 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजनाओं के निर्माण कार्यों का शुभारंभ किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड में हर घर में नल योजना को हम दो वर्ष के अंदर ही जमीन पर उतार देंगे। हर गांव के घर में पाइपलाइन से पेयजल की आपूर्ति होगी।

Cm Yogi Launched Har Ghar Jal Scheme Every Household In Bundelkhand Will Get Drinking Water :

सीएम ने कहा कि बुंदेलखंड की सबसे बड़ी चुनौती पानी है लेकिन पानी के लिए मां—बहनों को कहीं दूर नहीं जाना होगा। सीएम ने कहा कि बुंदेलखंड अब विकास और शुद्ध पेय जल से वंचित नहीं रहेगा। अब बुंदेलखंड की महिलाओं को घर पर ही इस योजना के तहत शुद्ध पेय जल मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से यहां विकास नहीं हुआ, खनन माफिया लोगों को शोषण करते रहे।

पीएम मोदी बुंदेलखंड आए, उन्होंने एक्सप्रेस-वे, डिफेंस कॉरिडोर दिया। अब विकास भी होगा रोजगार भी मिलेगा। सीएम ने कि प्रधानमंत्री की अनुकंपा व आर्शीवाद से आज बुंदेलखंड में पहले चरण में तीन जनपदों में पाइप पेय जल की सभी योजनाओं का शुभारंभ हो रहा है। आगामी दो वर्ष के अंदर यहां के हर ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री की हर घर नल की योजना को साकार करके बुंदेलखंड को प्यास से मुक्त करेंगे।

बता दें कि, बुंदेलखंड में सूखे की स्थिति को देखकर पीएम मोदी ने 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान बांदा की रैली से जल जीवन मिशन की घोषणा की थी। योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी राज्य पेजयल योजना के तहत बुंदेलखंड में काम शुरू कराया। इस योजना के तहत यह तय हुआ कि चार चरणों में परियोजनाएं पूरी होंगी, जिनकी कुल अनुमानित लागत 10131 करोड़ रुपये होगी। मिशन की शुरुआत झांसी, महोबा और ललितपुर से हो रही है। इस योजना का लाभ बुंदेलखंड के झांसी सहित सात जिलों के 3622 राजस्व गांवों की 67 लाख की आबादी को मिलेगा।

झांसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को झांसी पहुंचे। उन्होंने जल जीवन मिशन, उत्तर प्रदेश (हर-घर-जल) के अंतर्गत पहले चरण में बुंदेलखंड में 2185 करोड़ रुपये की 12 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजनाओं के निर्माण कार्यों का शुभारंभ किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड में हर घर में नल योजना को हम दो वर्ष के अंदर ही जमीन पर उतार देंगे। हर गांव के घर में पाइपलाइन से पेयजल की आपूर्ति होगी। सीएम ने कहा कि बुंदेलखंड की सबसे बड़ी चुनौती पानी है लेकिन पानी के लिए मां—बहनों को कहीं दूर नहीं जाना होगा। सीएम ने कहा कि बुंदेलखंड अब विकास और शुद्ध पेय जल से वंचित नहीं रहेगा। अब बुंदेलखंड की महिलाओं को घर पर ही इस योजना के तहत शुद्ध पेय जल मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से यहां विकास नहीं हुआ, खनन माफिया लोगों को शोषण करते रहे। पीएम मोदी बुंदेलखंड आए, उन्होंने एक्सप्रेस-वे, डिफेंस कॉरिडोर दिया। अब विकास भी होगा रोजगार भी मिलेगा। सीएम ने कि प्रधानमंत्री की अनुकंपा व आर्शीवाद से आज बुंदेलखंड में पहले चरण में तीन जनपदों में पाइप पेय जल की सभी योजनाओं का शुभारंभ हो रहा है। आगामी दो वर्ष के अंदर यहां के हर ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री की हर घर नल की योजना को साकार करके बुंदेलखंड को प्यास से मुक्त करेंगे। बता दें कि, बुंदेलखंड में सूखे की स्थिति को देखकर पीएम मोदी ने 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान बांदा की रैली से जल जीवन मिशन की घोषणा की थी। योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी राज्य पेजयल योजना के तहत बुंदेलखंड में काम शुरू कराया। इस योजना के तहत यह तय हुआ कि चार चरणों में परियोजनाएं पूरी होंगी, जिनकी कुल अनुमानित लागत 10131 करोड़ रुपये होगी। मिशन की शुरुआत झांसी, महोबा और ललितपुर से हो रही है। इस योजना का लाभ बुंदेलखंड के झांसी सहित सात जिलों के 3622 राजस्व गांवों की 67 लाख की आबादी को मिलेगा।