राम भक्तो को इस दीपावली पर मिलेगी बड़ी खुशखबरी: CM योगी आदित्यनाथ

cm yogi aditynath
राम भक्तो को इस दीपावली पर मिलेगी बड़ी खुशखबरी: CM योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल्द ही प्रदेश के लोगों को एक खुशखबरी मिलेगी। योगी ने राम मंदिर का नाम लिए बिना मोरारी बापू की रामकथा में श्रद्धालुओं से कहा कि श्रीराम हम सब की सांसों में बसे हुए हैं। रामकथा से राम मंदिर को जोड़ते हुए योगी ने इशारों-इशारों में कहा कि बहुत जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है।

Cm Yogi Said In The Story Of Morari Bapu Said Soon You Will Get Very Good News :

नवरात्री के मौके पर कथा वाचक मोरारी बापू भी वहां पहुंचे थे और उनकी राम कथा में शामिल होने पहुंचे सीएम योगी ने कहा कि भक्तों को भगवान राम के जीवन से सीख लेनी चाहिए और राज्य के कल्याण के लिए उसे अपने जीवन में उतारना चाहिए। इसी दौरान उन्होंने राम मंदिर का नाम लिए बिना कहा कि जल्द ही प्रदेश के लोगों को खुशखबरी मिलने वाली है।

ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की स्मृति में गोरखपुर में आयोजित मोरारी बापू की रामकथा का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘भक्ति में ही शक्ति है। मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम स्वयं आदर्श हैं, जीवन के प्रत्येक पक्ष में जहां भी हमारे सामने समस्या पैदा होती है तो श्रीराम के जीवन से जुड़े किसी न किसी प्रसंग से हमें उस कठिनाई को दूर करने की प्रेरणा मिलती है।’ उन्होंने अपील की है कि श्रीराम के जीवन-आदर्शों से प्रेरणा लेकर राष्ट्र के उत्थान में योगदान दें।

रामकथा शुरू करने से पहले कथावाचक मोरारी बापू ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम करने की शैली, निर्भीक निर्णय की क्षमता के वह मुरीद हैं और जब भी ऐसे निर्णय का पता चलता है तो वह खुश होते हैं।

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल्द ही प्रदेश के लोगों को एक खुशखबरी मिलेगी। योगी ने राम मंदिर का नाम लिए बिना मोरारी बापू की रामकथा में श्रद्धालुओं से कहा कि श्रीराम हम सब की सांसों में बसे हुए हैं। रामकथा से राम मंदिर को जोड़ते हुए योगी ने इशारों-इशारों में कहा कि बहुत जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। नवरात्री के मौके पर कथा वाचक मोरारी बापू भी वहां पहुंचे थे और उनकी राम कथा में शामिल होने पहुंचे सीएम योगी ने कहा कि भक्तों को भगवान राम के जीवन से सीख लेनी चाहिए और राज्य के कल्याण के लिए उसे अपने जीवन में उतारना चाहिए। इसी दौरान उन्होंने राम मंदिर का नाम लिए बिना कहा कि जल्द ही प्रदेश के लोगों को खुशखबरी मिलने वाली है। ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की स्मृति में गोरखपुर में आयोजित मोरारी बापू की रामकथा का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'भक्ति में ही शक्ति है। मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम स्वयं आदर्श हैं, जीवन के प्रत्येक पक्ष में जहां भी हमारे सामने समस्या पैदा होती है तो श्रीराम के जीवन से जुड़े किसी न किसी प्रसंग से हमें उस कठिनाई को दूर करने की प्रेरणा मिलती है।' उन्होंने अपील की है कि श्रीराम के जीवन-आदर्शों से प्रेरणा लेकर राष्ट्र के उत्थान में योगदान दें। रामकथा शुरू करने से पहले कथावाचक मोरारी बापू ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम करने की शैली, निर्भीक निर्णय की क्षमता के वह मुरीद हैं और जब भी ऐसे निर्णय का पता चलता है तो वह खुश होते हैं।