सीएम योगी बोले- अस्पतालों और मेडिकल काॅलेजों के औचक निरीक्षण करें मंत्री

CM Yogi
योगी सरकार 26 जून को बनायेगी इस मामले में रिकॉर्ड, उत्तर प्रदेश बनेगा पहला राज्य

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री को अस्पतालों व मेडिकल काॅलेजों का आकस्मिक निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अस्पतालों व मेडिकल काॅलेजों व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने व जनता से सीधा फीडबैक प्राप्त करते हुए औचक निरीक्षण किए जाएं। उन्होंने इमरजेंसी की सुविधाओं को और मजबूत करने का निर्देश दिया।

Cm Yogi Said Minister Should Do Surprise Inspection Of Hospitals And Medical Colleges :

बुधवार को टीम-11 की बैठक में कोरोना व लॉकडाउन की प्रदेश में स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को कई निर्देश दिये। नियमित संपर्क के माध्यम से प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर बल देते हुए सीएम योगी ने कहा कि लाॅकडाउन को सफल बनाए रखने के लिए मुख्य सचिव व डीजीपी समस्त जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों व पुलिस अधीक्षकों से नियमित संवाद कायम रखें। सभी अधिकारियों से मजबूती से लॉकडाउन को पालन करवाया जाए। इस वक्त बाजार खुल रहे हैं, वाहनों का आवागमन शुरू हो गया है और हवाया यात्राएं भी शुरू हो गई हैं, इसलिए इस वक्त शारीरिक दूरी का पालन बहुत जरूरी है।

सीएम योगी ने कहा कि श्रमिक व कामगारों की स्क्रीनिंग के साथ क्वारंटाइन सेंटरों में सुरक्षा व्यवस्था मजबूत की जाए। उन्होंने श्रमिक व कामगारों को खाद्यान किट बांटने के लिए भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा यदि किसी श्रमिक व कामगार का बैंक खाता किन्हीं कारणों से निष्क्रिय हो गया हो तो प्रशासन संबंधित बैंक शाखा से सम्पर्क करते हुए ऐसे बैंक खातों को अविलम्ब सक्रिय कराएं, ताकि उनको भरण-पोषण भत्ते की धनराशि मिल सके। उन्होंने श्रमिक व कामगारों की स्किल मैपिंग की गति को तेज करने पर बल दिया।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री को अस्पतालों व मेडिकल काॅलेजों का आकस्मिक निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अस्पतालों व मेडिकल काॅलेजों व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने व जनता से सीधा फीडबैक प्राप्त करते हुए औचक निरीक्षण किए जाएं। उन्होंने इमरजेंसी की सुविधाओं को और मजबूत करने का निर्देश दिया। बुधवार को टीम-11 की बैठक में कोरोना व लॉकडाउन की प्रदेश में स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को कई निर्देश दिये। नियमित संपर्क के माध्यम से प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर बल देते हुए सीएम योगी ने कहा कि लाॅकडाउन को सफल बनाए रखने के लिए मुख्य सचिव व डीजीपी समस्त जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों व पुलिस अधीक्षकों से नियमित संवाद कायम रखें। सभी अधिकारियों से मजबूती से लॉकडाउन को पालन करवाया जाए। इस वक्त बाजार खुल रहे हैं, वाहनों का आवागमन शुरू हो गया है और हवाया यात्राएं भी शुरू हो गई हैं, इसलिए इस वक्त शारीरिक दूरी का पालन बहुत जरूरी है। सीएम योगी ने कहा कि श्रमिक व कामगारों की स्क्रीनिंग के साथ क्वारंटाइन सेंटरों में सुरक्षा व्यवस्था मजबूत की जाए। उन्होंने श्रमिक व कामगारों को खाद्यान किट बांटने के लिए भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा यदि किसी श्रमिक व कामगार का बैंक खाता किन्हीं कारणों से निष्क्रिय हो गया हो तो प्रशासन संबंधित बैंक शाखा से सम्पर्क करते हुए ऐसे बैंक खातों को अविलम्ब सक्रिय कराएं, ताकि उनको भरण-पोषण भत्ते की धनराशि मिल सके। उन्होंने श्रमिक व कामगारों की स्किल मैपिंग की गति को तेज करने पर बल दिया।