सीएम योगी बोले- रामभक्तों पर गोली चलवाने वाले उपद्रवियों पर हुई कार्रवाई का जवाब मांग रहे

cm yogi
सीएम योगी बोले- रामभक्तों पर गोली चलवाने वाले उपद्रवियों पर हुई कार्रवाई का जवाब मांग रहे

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को विधानसभा में अपने संबोधन में विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हम किसी के साथ कोई अन्याय नहीं होने देंगे। हमने प्रदेश के 26 लाख छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की घोषणा की। जबकि सपा व बसपा राज में कभी दलितों की तो कभी पिछड़े समाज के बच्चों की छात्रवृत्ति रोक देती थी। हम किसी से अन्याय नहीं करेंगे।

Cm Yogi Said Seeking Response To Action Taken On Miscreants Firing On The Devotees :

सीएम ने कहा कि सपा व बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष सार्थक बहस से भाग रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने रामभक्तों पर गोलियां चलवाकर अयोध्या की मान्यता को दूषित करने का प्रयास किया था, वो आज हमसे उपद्रवियों पर हो रही कार्रवाई पर जवाब मांग रहे हैं।

उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ उपद्रव करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उपद्रव करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 19 व 20 दिसंबर को लखनऊ में हुई हिंसा में पुलिस की गोली से एक भी उपद्रवी की मौत नहीं हुई। उपद्रवियों की मौत उपद्रवियों की गोली से ही हुई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जामिया मिलिया इस्लामिया में हुई हिंसा के बाद मैंने अलीगढ़ प्रशासन को अलर्ट किया था। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के 15 हजार छात्र सड़कों पर उतरकर पूरा अलीगढ़ जला देना चाहते थे लेकिन पुलिस की सक्रियता से वो कामयाब नहीं हो सके। योगी ने कहा कि प्रदेश की पुलिस को इसका श्रेय देना चाहिए कि प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ।

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को विधानसभा में अपने संबोधन में विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हम किसी के साथ कोई अन्याय नहीं होने देंगे। हमने प्रदेश के 26 लाख छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की घोषणा की। जबकि सपा व बसपा राज में कभी दलितों की तो कभी पिछड़े समाज के बच्चों की छात्रवृत्ति रोक देती थी। हम किसी से अन्याय नहीं करेंगे। सीएम ने कहा कि सपा व बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष सार्थक बहस से भाग रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने रामभक्तों पर गोलियां चलवाकर अयोध्या की मान्यता को दूषित करने का प्रयास किया था, वो आज हमसे उपद्रवियों पर हो रही कार्रवाई पर जवाब मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ उपद्रव करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उपद्रव करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 19 व 20 दिसंबर को लखनऊ में हुई हिंसा में पुलिस की गोली से एक भी उपद्रवी की मौत नहीं हुई। उपद्रवियों की मौत उपद्रवियों की गोली से ही हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि जामिया मिलिया इस्लामिया में हुई हिंसा के बाद मैंने अलीगढ़ प्रशासन को अलर्ट किया था। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के 15 हजार छात्र सड़कों पर उतरकर पूरा अलीगढ़ जला देना चाहते थे लेकिन पुलिस की सक्रियता से वो कामयाब नहीं हो सके। योगी ने कहा कि प्रदेश की पुलिस को इसका श्रेय देना चाहिए कि प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ।