1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. महराजगंज जिले में बिना मान्यता के कोचिंग संस्थान चिह्नित

महराजगंज जिले में बिना मान्यता के कोचिंग संस्थान चिह्नित

By Editor-Vijay Chaurasiya 
Updated Date

महराजगंज। माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से चिह्नित जिले के 90 कोचिंग संस्थानों में से 53 की मान्यता नवंबर में ही समाप्त हो गई है। बिना नवीनीकरण कराए अनाधिकृत रूप से संस्थान को चलाया जा रहा है। विभाग ने निर्देशित किया है कि बिना मान्यता कोचिंग सेंटर का संचालन न करें। जांच में ऐसा पाए जाने पर संबंधित संस्थान व उनके संचालकों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

पढ़ें :- अयोध्या में भगवान विष्णु के नाम पर यज्ञ कर इसको प्रभु राम को समर्पित करना अपने आप में गौरव का विषय है : सीएम योगी

माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से जिले के नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित कोचिंग संस्थानों में से वर्तमान में 53 ऐसे को चिह्नित किया है, जिनकी वैधता अवधि 30 नवंबर 2020 को समाप्त हो गई है। ऐसे में दो दर्जन से अधिक ही कोचिंग संस्थान अब तक वैध रूप से संचालित हो रहे हैं। ये वैधता तो उनकी है, जा विभाग में पंजीकृत हैं। इसके अतिरिक्त बड़ी संख्या में ऐसे कोचिंग संस्थान हैं,जो बिना पंजीकरण के संचालित हैं।

इससे विभाग को राजस्व का चूना भी लग रहा है। जिला विद्यालय निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया कि जिले में कोचिंग चलाने वाले संचालक विभाग में बिना पंजीकरण अथवा नवीनीकरण कराए कोचिंग का संचालन न करें। जांच में यदि कहीं से भी कमी मिली तो संस्थान व संचालकों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

पढ़ें :- Uttrakhand Assembly Elections 2022 : BJP को लग सकता है बड़ा झटका, हरक सिंह रावत की घर वापसी तय
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...