अगुस्टा घोटाला : क्रिश्चियन मिशेल प्रत्यर्पण के बाद बीजेपी और कांग्रेस में अगुस्टा v/s राफेल

agusta vs rafail
अगुस्टा घोटाला : क्रिश्चियन मिशेन प्रत्यर्पण के बाद बीजेपी और कांग्रेस में अगुस्टा v/s राफेल

नई दिल्ली। अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर डील में कथित घोटाले की जांच के लिए कोर्ट ने बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई की कस्टडी में सौंप दिया है। हालाकि अब बीजेपी और कांग्रेस एक दूसरे पर हमलावर नजर आ रही हैं। इस मामले ने तब और तूल पकड़ लिया और जब कांग्रेस के यूथ कांग्रेस के लीगल सेल इंचार्ज एडवोकेट एल्जो जोसेफ मिशेल की तरफ से कोर्ट में पेश हुए। हालाकि इस मामले में बीजेपी हमलावर हुई तो कांग्रेस ने एल्जो को बाहर का रास्ता दिखा दिया। फिलहाल कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी रॉफेल घोटाले से लोगों का ध्यान हटाने के लिए मिशेल का इस्तेमाल कर रही है।

Congress Bjp Engage In Agusta V S Rafale After Cristian Mishel Interogation By Cbi :

बता दें कि राहुल गांधी ने पिछले कुछ महीनों से मोदी सरकार को राफेल डील में कथित घोटाले का आरोप लगाकर घेर रखा है। अब मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद बीजेपी को भी पलटवार का मौका मिल गया है। दरअसल अगुस्टा वेस्टलैंड डील मामला यूपीए सरकार के वक्त हुआ था। ऐसे में अब इस बात के आसार साफ नजर आ रहे हैं कि 2019 आम चुनावों से पहले संसद के शीतकालीन सत्र में बीजेपी, कांग्रेस के बीच अगुस्टा बनाम राफेल की जंग देखने को मिलेगी।

कांग्रेस और बीजेपी के बीच इस भिड़ंत की शुरुआत भी हो चुकी है। दक्षिणपंथी विचारक एस गुरुमुर्ती ने मिशेल की तरफ से कोर्ट में पेश हुए एल्जो जोसेफ को सीधे तौर पर गांधी परिवार से ही जोड़ दिया है। हालांकि जोसेफ ने पार्टी द्वारा ऐक्शन लेने से पहले कहा कि ये उनका पेशा है, इसलिए वो मिशेल की तरफ से पेश हुए हैं, इसका कांग्रेस से कोई लेना—देना नहीं है।

नई दिल्ली। अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर डील में कथित घोटाले की जांच के लिए कोर्ट ने बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई की कस्टडी में सौंप दिया है। हालाकि अब बीजेपी और कांग्रेस एक दूसरे पर हमलावर नजर आ रही हैं। इस मामले ने तब और तूल पकड़ लिया और जब कांग्रेस के यूथ कांग्रेस के लीगल सेल इंचार्ज एडवोकेट एल्जो जोसेफ मिशेल की तरफ से कोर्ट में पेश हुए। हालाकि इस मामले में बीजेपी हमलावर हुई तो कांग्रेस ने एल्जो को बाहर का रास्ता दिखा दिया। फिलहाल कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी रॉफेल घोटाले से लोगों का ध्यान हटाने के लिए मिशेल का इस्तेमाल कर रही है।बता दें कि राहुल गांधी ने पिछले कुछ महीनों से मोदी सरकार को राफेल डील में कथित घोटाले का आरोप लगाकर घेर रखा है। अब मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद बीजेपी को भी पलटवार का मौका मिल गया है। दरअसल अगुस्टा वेस्टलैंड डील मामला यूपीए सरकार के वक्त हुआ था। ऐसे में अब इस बात के आसार साफ नजर आ रहे हैं कि 2019 आम चुनावों से पहले संसद के शीतकालीन सत्र में बीजेपी, कांग्रेस के बीच अगुस्टा बनाम राफेल की जंग देखने को मिलेगी।कांग्रेस और बीजेपी के बीच इस भिड़ंत की शुरुआत भी हो चुकी है। दक्षिणपंथी विचारक एस गुरुमुर्ती ने मिशेल की तरफ से कोर्ट में पेश हुए एल्जो जोसेफ को सीधे तौर पर गांधी परिवार से ही जोड़ दिया है। हालांकि जोसेफ ने पार्टी द्वारा ऐक्शन लेने से पहले कहा कि ये उनका पेशा है, इसलिए वो मिशेल की तरफ से पेश हुए हैं, इसका कांग्रेस से कोई लेना—देना नहीं है।