राहुल गांधी बोले- मोदी की नफरत को मेरे प्यार ने दबा दिया

rahul gandhi
राहुल गांधी बोले- मोदी की नफरत को मेरे प्यार ने दबा दिया

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को वलसाड के लालडुंगरी गांव में जनआक्रोश रैली में पहुंचे। यहां लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गले मिलने की घटना का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, “एक तरफ मोदी मेरा और मेरे परिवार का अपमान करते हैं। कांग्रेस पार्टी का अपमान करते हैं। कहते हैं कांग्रेस पार्टी को मिटा दूंगा। लेकिन दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी का प्रेसिडेंट उनसे लोकसभा में जाकर गले मिलता है। नफरत को नफरत नहीं काट सकती। नफरत को प्यार ही काट सकता है।

Congress Chief Rahul Gandhi Addresses Congress Sevadal Adhiveshan In Ajmer :

राहुल ने कहा, ‘हम प्यार और मोहब्बत से काम करते हें। ये बेसिक फर्क है। मोदी जी बड़े-बड़े भाषण देते हैं कि देश को बदलना है। 70 साल में कुछ नहीं हुआ। मतलब गांधी जी ने कुछ नहीं किया, सरदार पटेल ने कुछ नहीं किया, जवाहर लाल नेहरू, आंबेडकर, देश के मजदूर, देश की जनता, देश के किसान किसी ने कुछ नहीं किया।’

जब मैंने मोदी जी को गले लगाया तो उनके लिए दिल में नफरत नहीं थी

उन्होंने कहा, ‘आपने संसद में देखा, एक तरफ नरेंद्र मोदी मेरे परिवार के बारे में, मेरे बारे में उल्टी सीधी बात करते हैं। गाली देते हैं। पूरी कांग्रेस पार्टी का अपमान करते हैं, वह कहते हैं कि कांग्रेस को मिटा दूंगा … और कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष लोकसभा में जाकर उनके गले लगता है। मैं आपको बता रहा हूं कि जब मैं मोदी जी के गले मिला मेरे दिल में उनके लिए नफरत नहीं थी।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ‘आपने उनका चेहरा देखा होगा। भाई, नफरत को नफरत नहीं काट सकती। नफरत को प्यार ही काट सकता है। मैं अनुभव से बता रहा हूं कि जब मैं उनके गले मिला तो उनके अंदर जो नफरत थी उस नफरत को मेरे प्यार ने दबा लिया।’ राहुल ने नफरत को डर का दूसरा रूप बताते हुए कहा कि डर के बिना नफरत नहीं हो सकती।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को वलसाड के लालडुंगरी गांव में जनआक्रोश रैली में पहुंचे। यहां लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गले मिलने की घटना का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, “एक तरफ मोदी मेरा और मेरे परिवार का अपमान करते हैं। कांग्रेस पार्टी का अपमान करते हैं। कहते हैं कांग्रेस पार्टी को मिटा दूंगा। लेकिन दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी का प्रेसिडेंट उनसे लोकसभा में जाकर गले मिलता है। नफरत को नफरत नहीं काट सकती। नफरत को प्यार ही काट सकता है।राहुल ने कहा, 'हम प्यार और मोहब्बत से काम करते हें। ये बेसिक फर्क है। मोदी जी बड़े-बड़े भाषण देते हैं कि देश को बदलना है। 70 साल में कुछ नहीं हुआ। मतलब गांधी जी ने कुछ नहीं किया, सरदार पटेल ने कुछ नहीं किया, जवाहर लाल नेहरू, आंबेडकर, देश के मजदूर, देश की जनता, देश के किसान किसी ने कुछ नहीं किया।'जब मैंने मोदी जी को गले लगाया तो उनके लिए दिल में नफरत नहीं थीउन्होंने कहा, 'आपने संसद में देखा, एक तरफ नरेंद्र मोदी मेरे परिवार के बारे में, मेरे बारे में उल्टी सीधी बात करते हैं। गाली देते हैं। पूरी कांग्रेस पार्टी का अपमान करते हैं, वह कहते हैं कि कांग्रेस को मिटा दूंगा ... और कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष लोकसभा में जाकर उनके गले लगता है। मैं आपको बता रहा हूं कि जब मैं मोदी जी के गले मिला मेरे दिल में उनके लिए नफरत नहीं थी।’कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ‘आपने उनका चेहरा देखा होगा। भाई, नफरत को नफरत नहीं काट सकती। नफरत को प्यार ही काट सकता है। मैं अनुभव से बता रहा हूं कि जब मैं उनके गले मिला तो उनके अंदर जो नफरत थी उस नफरत को मेरे प्यार ने दबा लिया।' राहुल ने नफरत को डर का दूसरा रूप बताते हुए कहा कि डर के बिना नफरत नहीं हो सकती।