RSS के मुख्यालय जाने की प्रणब को मिली सजा, कांग्रेस के इफ्तार पार्टी का नहीं मिला न्यौता

RSS के मुख्यालय जाने की प्रणब को मिली सजा, कांग्रेस के इफ्तार पार्टी का नहीं मिला न्यौता
RSS के मुख्यालय जाने की प्रणब को मिली सजा, कांग्रेस के इफ्तार पार्टी का नहीं मिला न्यौता

Congress Iftar Party No Invitation To Pranab Mukherjee

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 13 जून को इफ्तार पार्टी देंगे। कांग्रेस दो साल के अंतराल के बाद इफ्तार का आयोजन करने जा रही है। माना जा रहा है कि राहुल की इफ्तार पार्टी में कांग्रेस के नेताओं के अलावा विपक्षी दलों के भी कई नेता शिरकत करेंगे। इसे विपक्षी दलों को एक मंच पर लाने की कोशिश के रूप में भी देखा जा रहा है। बता दें कि कांग्रेस दो साल के अंतराल के बाद इफ्तार का आयोजन करने जा रही है। पार्टी के अल्पसंख्यक विभाग को इफ्तार के आयोजन की जिम्मेदारी दी गई है।

राहुल के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी की ओर से पहली बार इफ्तार का आयोजन किया जा रहा है। माना जा रहा है कि राहुल की इफ्तार पार्टी में कांग्रेस के नेताओं के अलावा विपक्षी दलों के भी कई नेता शिरकत करेंगे। हाल ही में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुख्यालय जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का नाम कांग्रेस की इफ्तार पार्टी में आने वाले मेहमानों की लिस्ट में नहीं है। पार्टी ने 13 जून को दिल्ली में होने वाली इफ्तार पार्टी में उन्हें नहीं बुलाया है।

हालांकि मुखर्जी और अंसारी दोनों को कांग्रेस के इस कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया है। लेकिन पूर्व राष्ट्रपति को नहीं आमंत्रित किए जाने पर निश्चित रूप से भौहें तिरछी होंगी क्योंकि यह संघ के मुख्यालय नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यक्रम में मुखर्जी के शामिल होने के तुरंत बाद आयोजित हो रहा है।

कांग्रेस ने आरएसएस के आयोजन में पूर्व राष्ट्रपति के भाषण से पहले प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए चिंता जताई थी। लेकिन बाद में राहत की सांस ली और कहा कि मुखर्जी ने दक्षिणपंथी समूह को “सच का आईना” दिखाया है।

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष नदीम जावेद ने, ‘कांग्रेस अध्यक्ष राहुल की मेजबानी में 13 जून को इफ्तार का आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन ताज पैलेस होटल में होगा।’ इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष रहने के दौरान सोनिया गांधी ने 2015 में इफ्तार का आयोजन किया था।

कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से इफ्तार का आयोजन उस वक्त किया जा रहा है जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में होने वाली इफ्तार का आयोजन नहीं करने का फैसला किया है। कोविंद की ओर से कहा गया है कि राष्ट्रपति भवन में किसी तरह कोई धार्मिक आयोजन नहीं होगा।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 13 जून को इफ्तार पार्टी देंगे। कांग्रेस दो साल के अंतराल के बाद इफ्तार का आयोजन करने जा रही है। माना जा रहा है कि राहुल की इफ्तार पार्टी में कांग्रेस के नेताओं के अलावा विपक्षी दलों के भी कई नेता शिरकत करेंगे। इसे विपक्षी दलों को एक मंच पर लाने की कोशिश के रूप में भी देखा जा रहा है। बता दें कि कांग्रेस दो साल के अंतराल के बाद इफ्तार का आयोजन…