1. हिन्दी समाचार
  2. कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई को झटका, गुरुग्राम में स्थित 150 करोड़ रुपये का बेनामी होटल जब्त

कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई को झटका, गुरुग्राम में स्थित 150 करोड़ रुपये का बेनामी होटल जब्त

Congress Leader Kuldeep Bishnoi Hotel Seize Benami Property Attach

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। इनकम टैक्‍स विभाग ने हरियाणा के कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्‍नोई के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग ने कुलदीप बिश्नोई और उनके भाई के गुरुग्राम स्थित होटल को बेनामी संपत्ति के तहत जब्त कर लिया है। इस होटल की कीमत 150 करोड़ बताई जा रही है। इसके तहत विभाग की ओर से यह गुरुग्राम के होटल को सीज किया गया है। यह कार्रवाई दिल्‍ली आयकर विभाग की बेनामी प्रोहिबिशन यूनिट (बीपीयू) की ओर से की गई है।

पढ़ें :- बिहार चुनाव: जेपी नड्डा ने विपक्ष पर बोला हमला, कहा-आरजेडी अराजकता पर विश्वास करती है

आयकर विभाग द्वारा जब्त की गई संपत्ति का स्वामित्व ब्राइट स्टार होटल प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर है, जिसमें 34% शेयर ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड के हैं। यह कंपनी संयुक्त अरब अमीरात से संचालित होती है।

आयकर विभाग ने यह कार्रवाई जुलाई 2019 में कंपनी से जुड़ी जांच में सबूत के आधार पर की है। इस जांच में आयकर विभाग को कई ऐसे सबूत हाथ लगे थे जिससे कंपनी के स्वामित्व पर शक हुआ था। ब्रिस्टल होटल के स्वामित्व को लेकर आयकर विभाग ने अनियमितता पाई थी। इसके बाद कार्रवाई करते हुए बेनामी संपत्ति को जब्त कर लिया।

78 घंटे चली थी छापेमारी

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बेनामी संपत्ति लेनदेन (निषेध) अधिनियम 1988 की धारा 24(3) के तहत आदेश जारी किए गए थे। विभाग ने बिश्नोई और उनके परिवार के खिलाफ कर चोरी के आरोपों के चलते इस साल जुलाई में व्यापक स्तर पर छापेमारी की थी। इनकम टैक्‍स विभाग ने कुलदीप बिश्‍नोई के घर और दिल्‍ली, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में एक समूह के 13 ठिकानों पर छापेमारी की थी।

पढ़ें :- IPL 2020: नितीश राणा ने अर्धस्तक के बाद आखिर क्यों दिखाई अलग नाम की जर्सी, जानकर आंख हो जायेगी नम

यहां से आयकर विभाग को 200 करोड़ रुपये की अघोषित विदेशी संपत्ति और कर चोरी के सबूत मिले थे। इनकम टैक्स अधिकारियों की छापेमारी कुल 77 घंटे 45 मिनट तक चली थी और उनके बेटे भव्य बिश्नोई को अपने साथ दिल्ली ले गई थी।

कांग्रेस से विधायक हैं कुलदीप बिश्नोई-

हरियाणा के सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहे भजन लाल के बेटे कुलदीप बिश्नोई विधायक हैं, जबकि उनकी पत्नी रेणुका बिश्नोई भी राज्य विधानसभा में हांसी सीट का प्रतिनिधित्व करती हैं। दोनों पति-पत्नी ने 2014 के विधानसभा चुनाव में हरियाणा जनहित कांग्रेस के उम्मीदवारों के रूप में जीत हासिल की थी। बाद में 2016 में पार्टी का कांग्रेस में विलय हो गया था। उनके बेटे भव्य बिश्नोई ने हाल ही में कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर हिसार संसदीय सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...