40 गरीब परिवारों को बेघर कर आजम खां ने बनवाया स्कूल : फैजल खान

fazil khan
40 गरीब परिवारों को बेघर कर आजम खां ने बनवाया स्कूल : फैजल खान

रामपुर। रामपुर के सांसद आजम खां पर 40 गरीब परिवारों को बेघर करने का आरोप लगा है। यह आरोप रामपुर कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल खान लाला ने लगाया है। फैसल खान का कहना है कि, रामपुर ने गरीब परिवारों के बेघर करके जमीन को जौहर ट्रस्ट को आवंटित करा दी, जिसके मालिक आजम खां खुद हैं।

Congress Leader Takes Charge Of Mp Azam Khan :

फैजल खान का कहना है कि उक्त जमीन को सरकार अपने कब्जे में कर ले और खाली जगह पर गरीब परिवार को दोबारा रहने की जगह दी जाए। पीड़ित परिवार ने कांग्रेस नेता फैजल खान के माध्यम से सीएम योगी आदित्यनाथ, पीएम नरेन्द्र मोदी, राज्यपाल रामनाईक और राष्ट्रपति को पत्र लिखा है।

कांग्रेस नेता फैसल खां ने बताया कि, वक्फ यतीम 157 सरायगेट रामपुर में 40 गरीब परिवार रहते थे। पीड़ित परिवार का कहना है कि, किरायेदारी की रसीदें और अल्पसंख्यक विभाग के आवंटन पेपर भी थे। आरोप है कि 2016 में वक्फ मंत्री रहने के दौरान आजम खान ने वक्फ आवंटन निरस्त करा दिया। इसके साथ ही उक्त जमीन को जौहर ट्रस्ट को आवंटित कर दिया, जिसके मालिक आजम खां हैं।

आरोप है कि उस दौरान आजम खां ने मंत्री पद का दुरूपयोग करके 40 पीड़ित परिवारों को बेघर कर दिया। इसके साथ ही उक्त जमीन पर तीन मंजिला बिल्डिंग बनवाई, जिस पर आज भी निर्माण कार्य चल रहा है। आरोप है ​कि दो दिन पूर्व उक्त बिल्डिंग पर यतीम खाना रामपुर पब्लिक स्कूल का बोर्ड लगाया गया है। पीड़ित परिवार की मांग है कि उक्त वक्त जमीन पर दोबारा पीड़ित परिवार को बसाया जाये।

रामपुर। रामपुर के सांसद आजम खां पर 40 गरीब परिवारों को बेघर करने का आरोप लगा है। यह आरोप रामपुर कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल खान लाला ने लगाया है। फैसल खान का कहना है कि, रामपुर ने गरीब परिवारों के बेघर करके जमीन को जौहर ट्रस्ट को आवंटित करा दी, जिसके मालिक आजम खां खुद हैं। फैजल खान का कहना है कि उक्त जमीन को सरकार अपने कब्जे में कर ले और खाली जगह पर गरीब परिवार को दोबारा रहने की जगह दी जाए। पीड़ित परिवार ने कांग्रेस नेता फैजल खान के माध्यम से सीएम योगी आदित्यनाथ, पीएम नरेन्द्र मोदी, राज्यपाल रामनाईक और राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। कांग्रेस नेता फैसल खां ने बताया कि, वक्फ यतीम 157 सरायगेट रामपुर में 40 गरीब परिवार रहते थे। पीड़ित परिवार का कहना है कि, किरायेदारी की रसीदें और अल्पसंख्यक विभाग के आवंटन पेपर भी थे। आरोप है कि 2016 में वक्फ मंत्री रहने के दौरान आजम खान ने वक्फ आवंटन निरस्त करा दिया। इसके साथ ही उक्त जमीन को जौहर ट्रस्ट को आवंटित कर दिया, जिसके मालिक आजम खां हैं। आरोप है कि उस दौरान आजम खां ने मंत्री पद का दुरूपयोग करके 40 पीड़ित परिवारों को बेघर कर दिया। इसके साथ ही उक्त जमीन पर तीन मंजिला बिल्डिंग बनवाई, जिस पर आज भी निर्माण कार्य चल रहा है। आरोप है ​कि दो दिन पूर्व उक्त बिल्डिंग पर यतीम खाना रामपुर पब्लिक स्कूल का बोर्ड लगाया गया है। पीड़ित परिवार की मांग है कि उक्त वक्त जमीन पर दोबारा पीड़ित परिवार को बसाया जाये।