पश्चिम बंगाल: बीजेपी के विजयरथ को रोंकने के लिए कांग्रेस टीएमसी से कर सकती है गठबंधन

mamta banerjee
पश्चिम बंगाल: बीजेपी के विजयरथ को रोंकने के लिए कांग्रेस टीएमसी से कर सकती है गठबंधन

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में बीजेपी के विजय रथ को रोंकने के लिए कांग्रेस जल्द ही ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के साथ समझौता कर सकती है। आगामी 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस इस समझौते की संभावना तलाश रही है। इसको लेकर टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं के साथ कांग्रेस ने अनौपचारिक बातचीत शुरू कर दी है।

Congress May Tie Up With Tmc To Stop Bjps Vijayrath :

बता दे कि हाल ही में सम्पन्न हुए संसद के बजट सत्र के अंतिम सप्ताह में राहुल गांधी ने टीएमसी के लोकसभा प्रमुख सचेतक कल्याण बनर्जी से लगभग आधे घंटे तक बातचीत की। सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी ने इस दौरान उनसे पूछा कि टीएमसी राज्य में मुख्य विपक्षी दल के रूप में किसे देखती है। यहीं नहीं उन्होने इस दौरान दोनों पार्टियों के बीच समन्वय बढ़ाने की भी बात कही।

हालाकि ये सुनिश्चित करने के लिए टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ही अंतिम फैसला लेंगी। बता दें कि राहुल गांधी और कल्याण बनर्जी की मुलाकात के अलावा इसी मुद्दे पर तृणमूल के लोकसभा नेता सुदीप बंदोपाध्याय और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के बीच भी एक अन्य अनौपचारिक बातचीत हुई।

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में बीजेपी के विजय रथ को रोंकने के लिए कांग्रेस जल्द ही ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के साथ समझौता कर सकती है। आगामी 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस इस समझौते की संभावना तलाश रही है। इसको लेकर टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं के साथ कांग्रेस ने अनौपचारिक बातचीत शुरू कर दी है। बता दे कि हाल ही में सम्पन्न हुए संसद के बजट सत्र के अंतिम सप्ताह में राहुल गांधी ने टीएमसी के लोकसभा प्रमुख सचेतक कल्याण बनर्जी से लगभग आधे घंटे तक बातचीत की। सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी ने इस दौरान उनसे पूछा कि टीएमसी राज्य में मुख्य विपक्षी दल के रूप में किसे देखती है। यहीं नहीं उन्होने इस दौरान दोनों पार्टियों के बीच समन्वय बढ़ाने की भी बात कही। हालाकि ये सुनिश्चित करने के लिए टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ही अंतिम फैसला लेंगी। बता दें कि राहुल गांधी और कल्याण बनर्जी की मुलाकात के अलावा इसी मुद्दे पर तृणमूल के लोकसभा नेता सुदीप बंदोपाध्याय और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के बीच भी एक अन्य अनौपचारिक बातचीत हुई।