नीतीश को कांग्रेस का आॅफर, BJP से नाता तोड़े तो महागठबंधन में हो सकता है शामिल

नीतीश कुमार , काँग्रेस , nitish kumar , congress , rahul gandhi
नीतीश को कांग्रेस का आॅफर, BJP से नाता तोड़े तो महागठबंधन में हो सकता है शामिल

Congress Offer Bihar Cm Nitish Kumar To Quit Nda Again Join Grand Alliance In Bihar

पटना। नीतीश कुमार को लेकर कांग्रेस के रूख काफी नरम दिख रहे हैं। कांग्रेस ने कहा है कि अगर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भाजपा का साथ छोड़ने का फैसला करते हैं तो उन्हें महागठबंधन में वापस लेने के लिए वह सहयोगी दलों के साथ विचार करेगी. कांग्रेस का यह बयान उस वक्त आया है जब हाल के दिनों में अगले लोकसभा चुनाव में सीटों के तालमेल के संदर्भ में जदयू और भाजपा के बीच कुछ विरोधाभासी बयान आये हैं जिस वजह से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों दलों के बीच सब कुछ ठीक नहीं है।

कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने रामविलास पासवान और उपेंद्र कुशवाहा का जिक्र करते हुए यह दावा भी किया कि बिहार में यह आम धारणा बन चुकी है कि नरेंद्र मोदी सरकार ‘पिछड़े और अतिपिछड़े वर्गों के खिलाफ’ है, ऐसे में पिछड़ों और अतिपिछड़ों की राजनीति करने वालों के पास भाजपा का साथ छोड़ने के सिवाय कोई दूसरा विकल्प नहीं है।

NDA में खींचतान

दरअसल नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने कहा है कि वह राज्‍य की 40 लोकसभा सीटों में से 25 पर चुनाव लड़ेगी और बाकी 15 सीटें बीजेपी के लिए छोड़ देगी। हालांकि जदयू ने इस आकलन में एनडीए के अन्‍य सहयोगियों रामविलास पासवान की लोजपा और उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा को शामिल नहीं किया है। लोजपा के छह और रालोसपा के तीन लोकसभा सदस्‍य हैं। सीटों को लेकर उपजी खींचतान के कारण केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को खासा नाराज बताया जा रहा है। वह सात जून को पटना में एनडीए की डिनर डिप्‍लोमेसी के नाम पर आयोजित रात्रिभोज में भी शामिल नहीं हुए थे।

राहुल गांधी करेंगे विपक्ष की अगुआई

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ राहुल गांधी के विपक्ष का नेतृत्व करने के सवाल पर गोहिल ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी में तुलना नहीं हो सकती। राहुल जी सच की लड़ाई लड़ रहे हैं। आने वाले चुनाव में देश की जनता राहुल गांधी के नेतृत्व में मोदी जी को हराएगी।’ कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि लोकसभा चुनाव में बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर किसी तरह की दिक्कत नहीं आएगी।

पटना। नीतीश कुमार को लेकर कांग्रेस के रूख काफी नरम दिख रहे हैं। कांग्रेस ने कहा है कि अगर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भाजपा का साथ छोड़ने का फैसला करते हैं तो उन्हें महागठबंधन में वापस लेने के लिए वह सहयोगी दलों के साथ विचार करेगी. कांग्रेस का यह बयान उस वक्त आया है जब हाल के दिनों में अगले लोकसभा चुनाव में सीटों के तालमेल के संदर्भ में जदयू और भाजपा के बीच कुछ विरोधाभासी बयान आये हैं…