1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Rahul Gandhi बोले- बीजेपी और आरएसएस झूठे हिंदू , ये करते हैं धर्म की दलाली

Rahul Gandhi बोले- बीजेपी और आरएसएस झूठे हिंदू , ये करते हैं धर्म की दलाली

कांग्रेस पार्टी (Congress Party) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर देवी लक्ष्मी और दुर्गा के अपमान का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि ये झूठे हिंदू हैं और धर्म की दलाली करते हैं। महिला कांग्रेस (Mahila Congress)के कार्यक्रम में शिरकत करते हुए राहुल ने कहा कि बीजेपी ने कभी महिला को प्रधानमंत्री नहीं बनाया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी (Congress Party) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर देवी लक्ष्मी और दुर्गा के अपमान का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि ये झूठे हिंदू हैं और धर्म की दलाली करते हैं। महिला कांग्रेस (Mahila Congress)के कार्यक्रम में शिरकत करते हुए राहुल ने कहा कि बीजेपी ने कभी महिला को प्रधानमंत्री नहीं बनाया है।

पढ़ें :- शिवसेना ने गरमाया राजनीतिक माहौल, ओवैसी को बताया भाजपा की 'अंडरगारमेंट'
Jai Ho India App Panchang

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कांग्रेस की महिला इकाई ‘अखिल भारतीय महिला कांग्रेस’ के स्थापना दिवस समारोह बोल रहे ​थे। उन्होंने आरोप लगाया कि आरएसएस और भाजपा के लोग ‘महिला शक्ति’ को दबा रहे हैं और भय का माहौल पैदा कर रहे हैं।

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने नोटबंदी और जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने ‘लक्ष्मी की शक्ति’ और ‘दुर्गा की शक्ति’ पर आक्रमण किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि आरएसएस (RSS) और भाजपा (BJP)  अपने आपको हिंदू पार्टी कहते हैं। इसके बाद लक्ष्मी जी और मां दुर्गा पर आक्रमण करते हैं। फिर कहते हैं कि वे हिंदू हैं। ये लोग झूठे हिंदू हैं। ये लोग हिंदू नहीं हैं। ये हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं। कांग्रेस नेता के मुताबिक, भाजपा (BJP)  और आरएसएस (RSS) के लोगों ने पूरे देश में डर फैलाया है, किसान डरे हुए हैं, महिलाएं डरी हुई हैं। उन्होंने कहा कि आरएसएस महिला शक्ति को दबाता है, लेकिन कांग्रेस का संगठन महिला शक्ति को समान मंच देता है।

राहुल गांधी ने कहा कि अगर पिछले 100-200 साल में किसी एक व्यक्ति ने हिंदू धर्म को सबसे अच्छे तरीके से समझा और अपने व्यवहार में लाया, तो वह महात्मा गांधी हैं। इसे हम भी मानते हैं। आरएससस (RSS) व भाजपा (BJP)   के लोग भी मानते हैं कि महात्मा गांधी ने अहिंसा को सबसे अच्छे तरीके से जिया। हिंदू धर्म की बुनियाद अहिंसा है। इसके बावजूद आरएसएस की विचारधारा द्वारा महात्मा गांधी को गोली क्यों मारी गई? इस बारे में आपको सोचना होगा। उन्होंने कहा कि वह आरएसएस (RSS)  और भाजपा (BJP)  की विचारधारा के साथ कभी समझौता नहीं कर सकते।

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जोर देकर कहा कि देश में आरएससस और भाजपा (BJP)  की सरकार है। इनकी विचारधारा और हमारी विचारधारा अलग-अलग हैं। कांग्रेस की विचारधारा गांधी की विचारधारा है। गोडसे और सावरकर की विचारधारा और हमारी विचारधारा में क्या फर्क है, इसे हमें समझना होगा। हमें इनके खिलाफ प्रेम से लड़ना है। नफरत के जरिये हम नहीं लड़ सकते।

पढ़ें :- केंद्रीय मंत्री ने की राहुल गांधी के बयान की आलोचना, कहा- पार्ट-टाइम नेता हैं इन्हें गम्भीरता से ना ले

राहुल गांधी ने कांग्रेस के चुनाव चिन्ह हाथ को भी अपने अंदाज से परिभाषित किया

गांधी ने कांग्रेस के चुनाव चिन्ह हाथ को भी अपने अंदाज से परिभाषित किया। कहा कि हाथ का यह निशान एक ताकत है। यह शक्ति हर घर में मौजूद में है। भगवान शिव, गुरु नानक, भगवान महावीर, ईसा मसीह सबके साथ यह हाथ का चिन्ह है। ये सभी देवता हर घर में मौजूद हैं। इसका मतलब है कि हर घर में हाथ का साथ है और प्रत्येक घर में हाथ दिखेगा। उन्होंने कहा कि हाथ आशीवार्द का प्रतीक नहीं, बल्कि इसका मतलब है सच्चाई से डरो मत। मोदी और उनकी पार्टी हमेशा सच्चाई से भागती रही है और हमेशा झूठ का सहारा लेकर आगे बढने का काम किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...