योगी सरकार यूपी की बेटियों और महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम: कांग्रेस

योगी सरकार यूपी की बेटियों और महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम
योगी सरकार यूपी की बेटियों और महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम: कांग्रेस

लखनऊ। उन्नाव में 19 वर्षीय युवती के साथ दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या किए जाने के मामले पर कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग की अध्यक्षा सिद्धीश्री ने कहा कि जो भाजपा सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर ढ़िंढोरा पीटती है, लेकिन सरकार उत्तर प्रदेश की महिलाओं और बेटियों को सुरक्षित माहौल देने में नाकाम नजर आ रही है। मुख्यमंत्री योगी जिस दिन देश और दुनिया के कारोबारियों के सामने प्रदेश की मजबूत होती कानून व्यवस्था का गुणगान करते हैं उसके 48 घंटे के भीतर ही एक युवती को जिन्दा जला दिया जाता है।

Congress Targets Yogi Sarkar Over Unnao Rape And Murder Case :

उन्नाव कांड में युवती की हत्या का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि एक दलित युवती को हवश का शिकार बनाने के बाद बेरहमी से पैट्रोल डालकर जिन्दा जला दिया गया। ऐसी हृदय विदारक घटनाएं इशारा करतीं हैं कि प्रदेश सरकार अपराधियों को रोक पाने में असमर्थ है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में नई सरकार बने ग्यारह महीने बीत चुके हैं। सूबे की कानून व्यवस्था को लेकर तमाम दावे जरूर हो रहे हैं लेकिन जमीन पर हालात जस के तस बने हुए हैं। अपराधियों का मनोबल बढ़ रहा है। उन्नाव की घटना साबित करती है कि अपराधी जघन्य अपराध करने से डर नहीं रहे है। महिलाओं और बेटियों के साथ आये दिन बलात्कार और उत्पीड़न की घटनाएं हो रहीं हैं। हर वर्ग की महिलाएं डर-डर कर जीवन जीने को मजबूर हैं। खासकर दलितों पर अत्यधिक अत्याचार बढ़ रहा है।

उन्होंने इलाहाबाद में हुई एलएलबी छात्र की हत्या के मामले को दलितों के खिलाफ अपराध का मामला बताते हुए कांग्रेस की अनुसूचित जाति नेता ने कहा कि भाजपा की दलित विरोधी नीतियों के चलते पीडि़त, वंचित, शेाषित समाज की आज दुर्दशा हो रही है। अराजकतत्व रसूखदारों के साये में पल्लवित व पोषित होकर निर्भीकता से खुलेआम अपराध करते घूम रहे हैं।

लखनऊ। उन्नाव में 19 वर्षीय युवती के साथ दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या किए जाने के मामले पर कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग की अध्यक्षा सिद्धीश्री ने कहा कि जो भाजपा सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर ढ़िंढोरा पीटती है, लेकिन सरकार उत्तर प्रदेश की महिलाओं और बेटियों को सुरक्षित माहौल देने में नाकाम नजर आ रही है। मुख्यमंत्री योगी जिस दिन देश और दुनिया के कारोबारियों के सामने प्रदेश की मजबूत होती कानून व्यवस्था का गुणगान करते हैं उसके 48 घंटे के भीतर ही एक युवती को जिन्दा जला दिया जाता है।उन्नाव कांड में युवती की हत्या का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि एक दलित युवती को हवश का शिकार बनाने के बाद बेरहमी से पैट्रोल डालकर जिन्दा जला दिया गया। ऐसी हृदय विदारक घटनाएं इशारा करतीं हैं कि प्रदेश सरकार अपराधियों को रोक पाने में असमर्थ है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में नई सरकार बने ग्यारह महीने बीत चुके हैं। सूबे की कानून व्यवस्था को लेकर तमाम दावे जरूर हो रहे हैं लेकिन जमीन पर हालात जस के तस बने हुए हैं। अपराधियों का मनोबल बढ़ रहा है। उन्नाव की घटना साबित करती है कि अपराधी जघन्य अपराध करने से डर नहीं रहे है। महिलाओं और बेटियों के साथ आये दिन बलात्कार और उत्पीड़न की घटनाएं हो रहीं हैं। हर वर्ग की महिलाएं डर-डर कर जीवन जीने को मजबूर हैं। खासकर दलितों पर अत्यधिक अत्याचार बढ़ रहा है।उन्होंने इलाहाबाद में हुई एलएलबी छात्र की हत्या के मामले को दलितों के खिलाफ अपराध का मामला बताते हुए कांग्रेस की अनुसूचित जाति नेता ने कहा कि भाजपा की दलित विरोधी नीतियों के चलते पीडि़त, वंचित, शेाषित समाज की आज दुर्दशा हो रही है। अराजकतत्व रसूखदारों के साये में पल्लवित व पोषित होकर निर्भीकता से खुलेआम अपराध करते घूम रहे हैं।