1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. अध्यक्ष पद के लिए नहीं हुआ चुनाव तो 50 साल तक विपक्ष में बैठेगी कांग्रेस : गुलाम नबी

अध्यक्ष पद के लिए नहीं हुआ चुनाव तो 50 साल तक विपक्ष में बैठेगी कांग्रेस : गुलाम नबी

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस में इन दिनों संगठन चुनाव की मांग तेज हो गई है। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबीं आजाद ने बड़ा बयान जारी करते हुए कहा है कि अगर कांग्रेस पार्टी 50 साल तक विपक्ष में बैठना चाहती है तो कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) के चुनाव न कराए जाएं। इस बाबत गुलाम नबीं आजाद ने कहा कि हम उन लोगों में से हैं जिन्हें 1970 के बाद कांग्रेस बनाई। बता दें कि गुलाम नबी आजाद उन 23 लोगों से हैं जिन्होंने पार्टी में बदलाव और नए अध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराने की मांग की है।

कांग्रेस अध्यक्ष को पार्टी में एक प्रतिशत भी सपोर्ट नहीं

कार्य पद्धति को लेकर कांग्रेस के 23 वरिष्ठ नेताओं ने सोनिया गांधी को असहमित पत्र लिखा था। इस पत्र में वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भी हस्ताक्षर किए थे। कांग्रेस कार्य समिति की बैठक के चार दिन बाद उन्होंने कहा कि नियुक्त किए गए कांग्रेस अध्यक्ष को पार्टी में एक प्रतिशत भी सपोर्ट नहीं है।

अध्यक्ष पद के लिए हो चुनाव

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जब आप चुनाव लड़ते हैं तो कम से कम 51 प्रतिशत आपके साथ होते हैं और आप पार्टी के भीतर केवल 2 से 3 लोगों के खिलाफ चुनाव लड़ते हैं। 51 प्रतिशत वोट पाने वाले शख्स को चुना जाएगा। अन्य को 10 या 15 फीसदी वोट मिलेंगे। जो शख्स जीतता है, उसे पार्टी अध्यक्ष का प्रभार सौंपा जाएगा। इसका मतलब है कि 51 प्रतिशत लोग उसके साथ हैं।

अध्यक्ष के पास एक प्रतिशत भी सपोर्ट नहीं

गुलाम नबी ने आगे कहा कि चुनाव का फायदा होता है उस वक्त होता है जब आप चुनाव लड़ते हैं, कम से कम 51 प्रतिशत लोग आपके पीछे होते हैं। लेकिन अभी, जो अध्यक्ष बने है उसके पास एक भी प्रतिशत का सपोर्ट नहीं है। अगर कांग्रेस कार्यसमिति के चुने जाते हैं, तो उन्हें नहीं हटाया जा सकता। तो समस्या कहां पर है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...