1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. देश की इकॉनमी, बेहतर रहन-सहन और पर्यावरण संतुलन के लिए जनसंख्या पर नियंत्रण बेहद जरूरी : शरद पवार

देश की इकॉनमी, बेहतर रहन-सहन और पर्यावरण संतुलन के लिए जनसंख्या पर नियंत्रण बेहद जरूरी : शरद पवार

उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को नई जनसंख्या नीति 2021-30 जारी कर दी है। जनसंख्य नियंत्रण को लेकर लंबे समय से बड़े कानून बनाए जाने की मांग चल रही थी। इसके साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर भी जनसंख्या नियंत्रण को लेकर जरूरी कदम उठाने की बातें होने लगी हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को नई जनसंख्या नीति 2021-30 जारी कर दी है। जनसंख्य नियंत्रण को लेकर लंबे समय से बड़े कानून बनाए जाने की मांग चल रही थी। इसके साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर भी जनसंख्या नियंत्रण को लेकर जरूरी कदम उठाने की बातें होने लगी हैं।

पढ़ें :- असम सरकार की 'जनसंख्या सेना' मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जन्म दर को ऐसे करेगी कंट्रोल

एनसीपी के चीफ शरद पवार भी जनसंख्या नियंत्रण को लेकर बड़े कदम उठाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि देश की इकॉनमी, बेहतर रहन-सहन और पर्यावरण संतुलन के लिए जनसंख्या पर नियंत्रण बेहद जरूरी है। विश्व जनसंख्या दिवस पर शरद पवार के बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। माना जा रहा है कि अन्य पार्टियां भी जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून लागू करने की पक्षधर हैं।

इसके साथ ही शरद पवार ने कहा कि ऐसे मौके पर देश के सभी नागरिकों को शपथ लेनी चाहिए की वह जनसंख्या नियंत्रण में अपना योगदान देंगे। बेहतर देश और बेहतर जनजीवन के लिए यह बहुत ही जरूरी है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को लोगों को इस बात के लिए प्रोत्साहित किया कि वो अधिक जनसंख्या से होने वाले नुकसानों के बारे में हर किसी को आगाह करें।

उन्होंने कहा कि बढ़ती जनसंख्या सभी समस्याओं की जड़ है। इससे समाज में असमानता फैल रही है। एक बेहतर समाज के निर्माण के लिए जनसंख्या नियंत्रण बहुत जरूरी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर किसी को शपथ लेनी चाहिए कि वह इसे नियंत्रित करने में अपना योगदान देगा।

 

पढ़ें :- शरद पवार के पीएम मोदी से मुकालत पर नवाब मलिक की सफाई, बोले- बीजेपी और एनसीपी नदी के दो किनारे

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...