सपा नेताओं के ये ‘बेतुके बयान’, खूब हुई किरकिरी

लखनऊ। वैसे तो समाजवादी पार्टी (सपा) नेताओं के बेतुके बयानों की फेहरिस्त काफी लंबी-चौड़ी है पर आज हम जिक्र कर रहे हैं कुछ ऐसे सियासी बयानों कि जो महिलाओं को लेकर इन नेताओं की मानसिकता को जाहिर करते हैं। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव हो, कैबिनेट मंत्री आजम खान हो या यूपी सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री तोताराम ही क्यों न हो, ये सभी इस लिस्ट में शामिल हैं। जिन्होने अपने बयानों से देशभर में खूब छीछालेदर कराई—




मुलायम सिंह यादव —

मुलायम ने कहा था- एक महिला के साथ 4 लोग रेप करें, ये प्रैक्टिकल नहीं

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने एक कार्यक्रम के दौरान एक बयान देकर बखेड़ा खड़ा कर दिया था। उन्होंने कहा था, “एक महिला के साथ 4 लोग कैसे रेप कर सकते हैं, ये प्रैक्टिकल ही नहीं है। ऐसे भी केस हुए हैं कि एक शख्स ने रेप किया और विक्टिम ने सिर्फ बदला लेने के लिए 4 लोगों पर उसका आरोप लगा दिया। रेप एक ने किया और 4 लोगों पर रिपोर्ट कैसे लिखवा दी, ऐसा कभी हो सकता है क्या?”

ऐसा ही बयान उन्होंने बदायूं रेपकांड पर भी दिया था। उस दौरान उन्होने कहा था कि लड़कों से हो जाती है गलती।




आजम खान, कैबिनेटमंत्री यूपी सरकार और सपा के कद्दावर मुस्लिम नेता-

विवादित बयानों का जिक्र हो और उसमे यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खान का नाम न हो ऐसा भला हो सकता है, क्योकि यह जनाब तो हर रोज़ नए नए तंजीदा बयानों के कारण सुर्ख़ियो में रहते है। बदांयू में एक कार्यक्रम के दौरान आजम खान कि जुबान फिसली तो उन्होने कह डाला, कि ‘गरीब घर की महिलाए यार के साथ नहीं जा सकती, लिहाजा ज्यादे बच्चे पैदा करती है।’

कुछ माह पूर्व यूपी के बुलंदशहर में हाईवे पर मां—बेटी के साथ हुए लूट और गैंगरेप कांड पर ​प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए भी आजम खां ने पूरे मामले पर संदेह जाहिर करते हुए कहा था कि इस मामले में राजनीतिक ​साजिश हो सकती है। आजम खां के बयान के बाद देशभर में उनकी आलोचना हुई थी, इस बयान को गंभीरता से लेते हुए सुप्रीम कोर्ट ने भी आजम खां को मांफी मांगनी पड़ी थी।

इसके साथ ही उन्होंने हाल ही समाजवादी आवास योजना में लाभार्थियों के लिए रखे गए एक कार्यक्रम में कह डाला कि मकान मालिक किरायदारों की बहन बेटियों पर बुरी नजर रखते हैं।




तोताराम यादव, पैक्फेड के चेयरमैन और यूपी सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव के करीबी समाजवादी –

तोताराम ने बयान दिया था कि – महिलाओं के साथ बलात्कार नहीं होता बल्कि वे आपसी सहमति से संबंध बनाती हैं।

यूपी के सपा नेता एवं दर्जा प्राप्त मंत्री तोताराम यादव को भी विवादों से बेहद लगाव है उन्होने मीडिया के सामने कहा था कि ‘महिलाओं के साथ बलात्कार नहीं होता बल्कि वे आपसी सहमति से संबंध बनाती हैं।’उनसे जब पूछा ज्ञ था कि क्या राज्य में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं को नियंत्रित किया जा सकता है, तो यादव ने कहा कि क्या है बलात्कार? ऐसी कोई चीज नहीं है। लड़के और लड़कियों की आपसी सहमति से होते हैं बलात्कार।’




रामगोविंद चौधरी, कैबिनेट मंत्री यूपी सरकार का विवादित बयान-

चार बच्चे पैदा करने वाले विश्व हिंदू परिषद के बयान पर उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री ने करारा हमला करते हुए बोला था कि साध्वी प्राची को खुद शादी करके बच्चे पैदा करने चाहिए, नसीहत देने से अच्छा होगा।