बीजेपी सांसद साक्षी महाराज के बिगड़े बोल, ममता बनर्जी को ‘हिरण्य कश्यप’ के खानदान का बताया

sakshi maharaj
बीजेपी सांसद साक्षी महाराज के बिगड़े बोल, ममता बनर्जी को ‘हिरण्य कश्यप’ के खानदान का बताया

लखनऊ। पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच चल रही तल्खी कम नहीं हो रही है। दोनों पा​र्टी के नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाने में जुटे हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश के उन्नाव ​से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी पर विवादित बयान दिया है। साक्षी महाराज ने कहा कि बंगाल की मुख्यमंत्री ‘हिरण कश्यप’ के खानदान की हैं।

Controversial Statement Given By Sakshi Maharaj Over Mamta Banerjee :

हरिद्वार में साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी पर ​तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि जो ‘जय श्रीराम’ बोलने पर जेल भेजने की बात करतीं हैं उनके बारे में क्या कहा जाए। उन्होंने कहा कि हालत ये हैं कि बंगाल का नाम आते ही त्रेता युग की याद आती है। जब राक्षस राज हिरण्य कश्यप ने ‘जय श्रीराम’ बोलने पर अपने बेटे को जेल में डाल कर यातनाएं दी थीं।

साक्षी महाराज यहीं नहीं रूके। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी भी अब यही कर रही हैं। ‘जयश्री राम’ बोलने वालों को जेल में डाल रही हैं और यातनाएं दे रही हैं। ममता कहीं ‘हिरण्य कश्यप’ के खानदान की तो नहीं हैं? उन्होंने कहा कि ममता का शासन अलगाववाद से कम नहीं है। इससे बंगाली आहत हैं और इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा। बता दें कि पश्चिम बंगाल में ममत बनर्जी की पार्टी टीएमसी और बीजेपी के बीच जमकर तनातनी चल रही है।

टीएमसी के जख्मों पर नमक छिड़कते हुए बीजेपी ने ‘जय श्री राम’ लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का निर्णय लिया है। पश्चिम बंगाल से बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि पार्टी ‘जय श्री राम’ लिखे कार्ड मुख्यमंत्री के आवास पर भेजेंगे। टीएमसी के विधायक रह चुके अर्जुन सिंह आम चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हुए थे।

लखनऊ। पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच चल रही तल्खी कम नहीं हो रही है। दोनों पा​र्टी के नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाने में जुटे हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश के उन्नाव ​से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी पर विवादित बयान दिया है। साक्षी महाराज ने कहा कि बंगाल की मुख्यमंत्री 'हिरण कश्यप' के खानदान की हैं। हरिद्वार में साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी पर ​तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि जो 'जय श्रीराम' बोलने पर जेल भेजने की बात करतीं हैं उनके बारे में क्या कहा जाए। उन्होंने कहा कि हालत ये हैं कि बंगाल का नाम आते ही त्रेता युग की याद आती है। जब राक्षस राज हिरण्य कश्यप ने ‘जय श्रीराम’ बोलने पर अपने बेटे को जेल में डाल कर यातनाएं दी थीं। साक्षी महाराज यहीं नहीं रूके। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी भी अब यही कर रही हैं। ‘जयश्री राम’ बोलने वालों को जेल में डाल रही हैं और यातनाएं दे रही हैं। ममता कहीं ‘हिरण्य कश्यप’ के खानदान की तो नहीं हैं? उन्होंने कहा कि ममता का शासन अलगाववाद से कम नहीं है। इससे बंगाली आहत हैं और इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा। बता दें कि पश्चिम बंगाल में ममत बनर्जी की पार्टी टीएमसी और बीजेपी के बीच जमकर तनातनी चल रही है। टीएमसी के जख्मों पर नमक छिड़कते हुए बीजेपी ने ‘जय श्री राम’ लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का निर्णय लिया है। पश्चिम बंगाल से बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि पार्टी ‘जय श्री राम’ लिखे कार्ड मुख्यमंत्री के आवास पर भेजेंगे। टीएमसी के विधायक रह चुके अर्जुन सिंह आम चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हुए थे।