1. हिन्दी समाचार
  2. स्वामी कृष्णस्वरूप का विवादित बयान- पीरियड में महिला खाना बनाएगी तो अगला जन्म कुत्ते का होगा

स्वामी कृष्णस्वरूप का विवादित बयान- पीरियड में महिला खाना बनाएगी तो अगला जन्म कुत्ते का होगा

Controversial Statement Of Swami Krishna Swaroop If The Woman Cooks Food In Her Period The Next Birth Of The Dog Will Be

अहमदाबाद: गुजरात के स्वामीनारायण भुज मंदिर के स्वामी कृष्णस्वरूप दासजी ने महिलाओं पर एक विवादित बयान दिया है। उन्होने कहा है कि ‘अगर पीरियड के दौरान महिलाएं खाना बनाएंगी तो निश्चित तौर से उनका अगला जन्म कुत्ते के रूप में होगा। आपको बता दें कि इसी मंदिर के अनुयायी की ओर से चलाए जा रहे स्कूल के हॉस्टल में पिछले दिनों लड़कियों के अंडरवियर उतारे जाने का मामला सामने आया था। पीरियड की जांच के लिए लड़कियों को कपड़े उतारने पर मजबूर किया गया था।

पढ़ें :- Realme का सबसे सस्ता 5G फोन लॉन्च, 15000 रुपये से कम है कीमत

आपको बता दें कि स्वामीनारायण भुज मंदिर का यूट्यूब पर अपना पेज है, जहां अक्सर स्वामी कृष्णस्वरूप दासजी वीडियो अपलोड करते रहते हैं। ऐसे ही एक वीडियो में कृष्णस्वरूप कहते हैं कि जो पुरुष पीरियड से गुजर रहीं महिलाओं के हाथ का बना खाना खाते हैं वे अगले जन्म में बैल बन जाते हैं। कृष्णस्वरूप का कहना है कि अगर एक बार भी ये गलती हुई तो अगले जन्म में जानवर बनना तय है।

वीडियो में कृष्णस्वरूप ने कहा- ये बातें सुनकर आपको जैसा भी लगे, लेकिन शास्त्रों में ये नियम बनाए गए हैं। आपको लगेगा कि मैं बहुत कठोर हूं, औरतें ये सुनकर रो सकती हैं कि वे कुत्तों में बदल जाएंगी। लेकिन हां, आपको ऐसा बनना पड़ेगा। उन्होने कहा कि मैं नहीं जानता कि मुझे आपको काउंसिल करना चाहिए या नहीं। 10 सालों में ये पहली बार है जब मैं ये सलाह दे रहा हूं। संतों ने हमारे धर्म की गुप्त बातों के बारे में चर्चा नहीं करने की सलाह दी है। लेकिन अगर मैं नहीं कहूंगा तो आप कभी नहीं समझेंगे।

इस दौरान उन्होने इससे बचने के लिए पुरुषों को सलाह दी हैं कि आप पीरियड से गुजर रही महिलाओं की बनाई रोटियां खाते हैं तो शादी करने से पहले ही खाना बनाना सीख लें। आपको बता दें कि कुछ दिनो पहले स्वामीनारायण भुज मंदिर के अनुयायी की ओर से चलाए जा रहे सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट में 68 लड़कियों के पीरियड जांच की बात सामने आई थी। लड़कियों को जांच के लिए जबरन बाथरूम में ले जाया गया था और उन्हें अंडरवियर उतारने पड़े थे। मामले का खुलासा हुआ तो प्रशासन हरकत में आया और जांच की बात कही गई थी वहीं बाद में लड़कियों को नियम तोड़ने का दोषी बताया गया था।

पढ़ें :- सुजुकी ने Hayabusa की लांचिंग तारीख का किया खुलासा, इतनी हो सकती है कीमत

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X