1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. धर्मांतरण मामला: लखनऊ का आरिफ आदित्य बन आगरा की एक महिला से दोस्ती कर करता रहा रेप

धर्मांतरण मामला: लखनऊ का आरिफ आदित्य बन आगरा की एक महिला से दोस्ती कर करता रहा रेप

उत्तर प्रदेश से पिछले कुछ दिनों में धर्मांतरण के बहुत सारे मामले सामने आये हैं। इसी क्रम में एक मामला आगरा से भी खबरों में आया है। जिसमें लखनऊ का रहने वाला आरिफ आदित्य बन कर के आगरा की एक महिला कारोबारी को अपने प्यार के चंगुल में फंसाता है। फिर उसको ब्लैकमेल कर पैसे भी लेता है, बलात्कार भी करता है। इतना ही नहीं महिला ने धमकाने के साथ साथ उसके साथ मारपीट करने के आरोप भी लगाये हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

आगरा। उत्तर प्रदेश से पिछले कुछ दिनों में धर्मांतरण के बहुत सारे मामले सामने आये हैं। इसी क्रम में एक मामला आगरा से भी खबरों में आया है। जिसमें लखनऊ का रहने वाला आरिफ आदित्य बन कर के आगरा की एक महिला कारोबारी को अपने प्यार के चंगुल में फंसाता है। फिर उसको ब्लैकमेल कर पैसे भी लेता है, बलात्कार भी करता है। इतना ही नहीं महिला ने धमकाने के साथ साथ उसके साथ मारपीट करने के आरोप भी लगाये हैं।

पढ़ें :- IILM 17th Academy Convocation 2022 : प्रो. मनोज दीक्षित ने मेधावियों को दिया मंत्र 'पढ़ें, कमाएं और लौटाऐं'

पीड़िता ने हिम्मत जुटाकर पुलिस से संपर्क किया। मुकदमा लिखाया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। सदर क्षेत्र निवासी होटल मालकिन ने मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने पुलिस को बताया कि वर्ष 2005 में पति का देहांत हो गया था। लखनऊ में एक पार्टी में उनकी मुलाकात एक युवक से हुई। युवक ने अपना नाम आदित्य आर्य बताया। जानकारी दी कि वह टिंबर कारोबारी है। उनके साथ मिलकर व्यापार करना चाहता है। वह उसकी बातों के जाल में फंस गईं। आरोपित ने एक दिन उनके माथे पर टीका लगाते हुए फोटो खिंचा ली। बाद में उसी फोटो के जरिए उन्हें ब्लैकमेल करने लगा। कहने लगा कि समाज में बदनाम कर देगा।

यह बताएगा कि उसने उनकी मांग भरी थी। आरोपित उनका शरीरिक शोषण करने लगा। बात-बात पर रुपये मांगने लगा। न देने पर पिस्टल दिखाकर हत्या की धमकी देने लगा। उनके साथ अप्राकृतिक कृत्य भी किया। विरोध पर उनकी हत्या का प्रयास किया। कई बार बेरहमी से पीटा। इस दौरान उन्हें जानकारी हुई कि आरोपित ने उनसे अपनी पहचान छिपाई थी। वह दूसरे समुदाय का है। इस जानकारी पर उन्होंने उसे बेनकाब करने की धमकी दी। आरोपित ने धोखे से उन्हें डरा धमका कर आर्य समाज मंदिर में शादी रचाई थी। बाद में वह अपने असली रंग में आ गया। उन्हें घर में पूजा करने से रोकने लगा। घर में रखा उनका मंदिर तोड़ दिया।

21 अप्रैल को आरिफ की मां का देहांत हो गया। उस समय वह लखनऊ में थीं। आरोपित उनके पास आया। 60 हजार रुपये मांगने लगा। इनकार करने पर गला दबाकर उनकी हत्या का प्रयास किया। रुपये लेने के बाद वहां से गया। आरोपित होटल का सारा फंड भी हड़पने लगा। इंस्पेक्टर सदर अजय कौशल ने बताया कि आरिफ हाशमी मूलत: बी-124 राजाजी पुरम, ताल कटोरा, लखनऊ का निवासी है। खुद को वुड वर्ल्ड इंडिया ऐशबाग में टिंबर कारोबारी बताया करता था। मामला धर्मांतरण का है। इसलिए मुकदमे में विधि विरुद्ध धर्मांतरण प्रतिरोध अधिनियम की धाराएं भी लगाई गई हैं। आरोपित के खिलाफ पीड़िता के पास पुख्ता साक्ष्य हैं। उनके मोबाइल में कई ऐसे फोटो हैं, जो यह साबित करते हैं कि आरोपित उनके साथ बेरहमी से मारपीट किया करता था।

 

पढ़ें :- जनहित के मुद्दों को लेकर सड़क से सदन तक निरंतर संघर्ष करती रहेगी सपा : अखिलेश यादव

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...