1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. यूपी में बढ़ता जा रहा कोरोना का कहर, झांसी जेल में 126 बंदी और दो हेड वार्डर कोरोना संक्रमित

यूपी में बढ़ता जा रहा कोरोना का कहर, झांसी जेल में 126 बंदी और दो हेड वार्डर कोरोना संक्रमित

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

झांसीi: उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। 24 घंटे में कोरोना के 2529 नए मरीज बढ़े हैं। यह एक दिन में नए केस मिलने का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। राज्य में अब एक्टिव केस की संख्या 21003 हो गई है। वहीं, 35803 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हुए हैं। जबकि, 1298 लोगों की मौत हुई है। उधर, झांसी जेल में 126 बंदी और दो जेल हेड वार्डर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यहां 788 लोगों के टेस्ट हुए थे। जिलाधिकारी ने जेल की चार बैरकों को एल-वन अस्पताल में तब्दील कर दिया गया है। संक्रमित बंदियों के इलाज के लिए डॉक्टरों और पैरा मेडिकल टीम की ड्यूटी लगाई गई है। राज्य में अब तक कुल 16,54,651 सैंपल की जांच की जा चुकी है।

झांसी जेल में 800 बंदियों को एक साथ रखा जा सकता है। लेकिन वर्तमान में क्षमता से अधिक 1001 बंदी निरुद्ध हैं। बीते 9 जुलाई को एक बंदी श्रीपत को बुखार आया था। जिस पर उसे झांसी जिला अस्पताल भेजा गया था। जहां उसका सैंपल लेकर कोरोना की जांच की गई तो वह पॉजिटिव पाया गया। उसके बाद उसे कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया। साथ ही अन्य कैदियों की सैंपलिंग की गई। गुरुवार को जेल के 126 बंदी और दो हेड वार्डर संक्रमित मिले। जेल अधीक्षक राजीव शुक्ला ने बताया कि, ड्यूटी पर आने वाले किसी असिम्टोमैटिक (कोरोना संक्रमित, जिसमें बीमारी के कोई लक्षण न हो) जेलकर्मी के द्वारा जेल में कोरोना संक्रमण फैलने की संभावना है।

गुरुवार को डीआईजी जेल वेद प्रकाश त्रिपाठी जिला ने जेल का निरीक्षण किया है। उन्होंने बताया कि, जिलाधिकारी आंद्रा वामसी और जेल अधीक्षक की सहमति से कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जेल में लेवल-वन वार्ड बनाया गया है। जेल में ऑक्सीजन सिलेंडर ओर लगातार तीन मेडिकल टीम की सेवा जारी है। जिला अधिकारी ने बताया कि सभी मरीजों का टेस्ट किया जा रहा है। आज रात तक उसकी भी रिपोर्ट आ जाएगी। जिला जेल में डॉक्टरों की 3 टीम लगातार निगरानी कर रही है। दवा खाने पीने की सभी आवश्यक चीजें उपलब्ध करा दी गई। है। जिससे किसी भी कैदी को परेशानी ना हो।

जिले में अब तक कुल 1605 मामले सामने आ चुके हैं। जिनमें से 671 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। वहीं अब तक 53 मरीजों की मौत हो चुकी है। फिलहाल अब 881 एक्टिव केस हैं। जिनका इलाज चल रहा है। गुरुवार को कुल 135 मरीज सामने आए हैं। इनमें 128 जेल से जुड़े हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...