1. हिन्दी समाचार
  2. कोरोना संकट: गुजरात में 5वीं बार प्रवासी मजदूरों का हंगामा , पुलिस पर किया पथराव

कोरोना संकट: गुजरात में 5वीं बार प्रवासी मजदूरों का हंगामा , पुलिस पर किया पथराव

Corona Crisis Uproar Of Migrant Laborers For 5th Time In Gujarat Stone Pelted On Police

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। लॉकडाउन में देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों का गुस्सा भड़कने लगा है। सोमवार को ऐसी ही तस्वीरें तीन प्रदेशों से सामने आई। गुजरात में लगातार 5वीं बार प्रवासी मजदूरों का बवाल देखने को मिला। यहां अहमदाबाद में सैकड़ों की संख्या में पैदल घर के लिए निकले मजदूरों को पुलिस ने रोका तो भीड़ आक्रोशित हो गई। मजदूरों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। गाड़ियां तोड़ दी। इसमें दो पुलिस वाले घायल हो गए। उधर, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हजारों की भीड़ श्रमिक स्पेशल ट्रेन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने जुटे। हरियाणा के सोनीपत में भी दो हजार से ज्यादा मजदूर बस पकड़ने के लिए स्टैंड पर जुट गए।

पढ़ें :- कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को लगा झटका, इस मशहूर अभिनेत्री का शव फंदे से लटका मिला

वहीं, गाजियाबाद के रामलीला मैदान में मजदूरों के लिए यूपी सरकार ने स्पेशल कैंप लगाया है। यहां श्रमिक स्पेशल ट्रेन के लिए मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कराया जा रहा है। यूपी सरकार इन मजदूरों को प्रदेश के अलग-अलग जिलों में भेजने के लिए ट्रेन चलाएगी। इसके अलावा हरियाणा के सोनीपत में दो हजार से ज्यादा मजदूर जुटे। ये सभी कुंडली इंडस्ट्रीयल एरिया में स्थित फैक्ट्रियों में काम करते थे। एक मजदूर ने कहा, ”हम लोग यूपी और बिहार के अलग-अलग हिस्सों से हैं। कंपनी लॉकडाउन के चलते बंद है। 55 दिनों तक हम लोग किसी तरह यहां काट चुके हैं। अब पैसा नहीं बचा है। भूख से मरने से बेहतर है कि घर चले जाएं। अब यहां वापस कभी नहीं आएंगे।”

बता दें कि गुजरात में इसके पहले भी चार बार प्रवासी मजदूरों का वाबल हो चुका है। दो बार सूरत में प्रवासी मजदूरों ने तोड़फोड़ की थी। सभी घर जाने की मांग कर रहे थे। राजकोट में रविवार को शापर इंडस्ट्रियल एरिया में प्रवासी मजदूरों ने रविवार को वाहनों में तोड़-फोड़ कर दी। बिहार और उत्तरप्रदेश जाने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेनें रद्द होने के बाद मजदूरों ने हंगामा किया। सड़क पर पत्थर रखकर वाहन रुकवा दिए और उनके शीशे तोड़ दिए थे। अहमदाबाद में यह दूसरी बार बवाल हुआ है। इसके पहले 3 मई को भी मजदूरों ने हंगामा किया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...