कोरोना संकट: योगी सरकार ने यूपी में एनपीआर पर लगाई रोक

cm yogi aadityanath
कोरोना संकट: योगी सरकार ने यूपी में एनपीआर पर लगाई रोक

लखनऊ । देश भर में फैली कोरोना महामारी को देखते हुए योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर रोक लगा दी है। प्रदेश में कोरोना संकट को देखते हुए अगले आदेश तक एनपीआर के कामों पर रोक लगाई गई है। इसे लेकर सरकार की ओर से प्रमुख सचिव जितेंद्र कुमार ने आदेश जारी किए हैं। आदेश में कहा गया है कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2021 के पहले चरण के कामों को फिलहाल रोक दिया जाए।

Corona Crisis Yogi Government Bans Npr In Up :

इसके बारे में प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारी और मंडलायुक्त को भी सूचित कर दिया गया है। मालूम हो कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन के साथ ही केंद्र सरकार ने एनपीआर और जनगणना के कामों को भी रोकने के आदेश दिए थे। इसे लेकर गृहमंत्रालय की ओर से आदेश जारी किए गए थे।

इसी के मद्देनजर अब उत्तर प्रदेश सरकार ने यह फैसला लिया है। गृह मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा था कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अपडेट किए जाने और वर्ष 2021 की जनगणना के पहले चरण का काम कोरोना संकट की वजह से निर्धारित समय पर नहीं शुरू हो पाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 21 दिन के लॉकडाउन का एलान किए जाने के साथ ही इन कामों को भी तत्काल रोकने के आदेश दिए गए थे। मंत्रालय की ओर से बताया गया था कि एनपीआर और जनगणना के काम एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच में पूरे होने थे, लेकिन कोरोना वायरस की रोकथाम को प्रमुखता देने की वजह से इन्हें रोकने का फैसला लिया गया है।

लखनऊ । देश भर में फैली कोरोना महामारी को देखते हुए योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर रोक लगा दी है। प्रदेश में कोरोना संकट को देखते हुए अगले आदेश तक एनपीआर के कामों पर रोक लगाई गई है। इसे लेकर सरकार की ओर से प्रमुख सचिव जितेंद्र कुमार ने आदेश जारी किए हैं। आदेश में कहा गया है कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2021 के पहले चरण के कामों को फिलहाल रोक दिया जाए। इसके बारे में प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारी और मंडलायुक्त को भी सूचित कर दिया गया है। मालूम हो कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन के साथ ही केंद्र सरकार ने एनपीआर और जनगणना के कामों को भी रोकने के आदेश दिए थे। इसे लेकर गृहमंत्रालय की ओर से आदेश जारी किए गए थे। इसी के मद्देनजर अब उत्तर प्रदेश सरकार ने यह फैसला लिया है। गृह मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा था कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अपडेट किए जाने और वर्ष 2021 की जनगणना के पहले चरण का काम कोरोना संकट की वजह से निर्धारित समय पर नहीं शुरू हो पाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 21 दिन के लॉकडाउन का एलान किए जाने के साथ ही इन कामों को भी तत्काल रोकने के आदेश दिए गए थे। मंत्रालय की ओर से बताया गया था कि एनपीआर और जनगणना के काम एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच में पूरे होने थे, लेकिन कोरोना वायरस की रोकथाम को प्रमुखता देने की वजह से इन्हें रोकने का फैसला लिया गया है।