1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Corona explosion in Tamil Nadu : कोविड लक्षण नजर आने के बाद कॉलेज के 40 छात्र आइसोलेट

Corona explosion in Tamil Nadu : कोविड लक्षण नजर आने के बाद कॉलेज के 40 छात्र आइसोलेट

कोयंबटूर (Coimbatore) के एक निजी कॉलेज ने बुखार और सर्दी के लक्षण दिखने पर 40 छात्रों को आइसोलेशन में रखा है। गुरुवार को छात्रों का आरटी-पीसीआर परीक्षण (RT-PCR Test ) किया गया और शुक्रवार को परिणाम का इंतजार है। फिजियोथेरेपी की पढ़ाई कारने वाले कॉलेज ने 22 से 24 अप्रैल तक एक राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया था, जिसमें आंध्र प्रदेश, केरल और कर्नाटक के छात्रों ने भाग लिया था।

By संतोष सिंह 
Updated Date

चेन्नई। कोयंबटूर (Coimbatore) के एक निजी कॉलेज ने बुखार और सर्दी के लक्षण दिखने पर 40 छात्रों को आइसोलेशन में रखा है। गुरुवार को छात्रों का आरटी-पीसीआर परीक्षण (RT-PCR Test ) किया गया और शुक्रवार को परिणाम का इंतजार है। फिजियोथेरेपी की पढ़ाई कारने वाले कॉलेज ने 22 से 24 अप्रैल तक एक राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया था, जिसमें आंध्र प्रदेश, केरल और कर्नाटक के छात्रों ने भाग लिया था।

पढ़ें :- Pariksha Pe Charcha-2023 : सीएम योगी ने CMS स्कूल पर साधा निशाना, बोले-जब जगदीश गांधी जैसे संस्थापक होंगे तो बच्चों पर पढ़ाई का दबाव तो बढ़ेगा ही

इससे पहले, तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास (IIT-M) में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या भी बढ़कर 60 हो गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जिला अधिकारियों से “सतर्क” रहने का आह्वान किया है। कोविड-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के प्रयासों में ढिलाई नहीं बरतने के निर्देश दिए हैं। प्रधान स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन (Principal Health Secretary J Radhakrishnan) ने कलेक्टरों को लिखे पत्र में पात्र लोगों का प्रभावी रूप से टीकाकरण करने का निर्देश दिया है।

तमिलनाडु में फेस-मास्क अनिवार्य, उल्लंघन किया तो 500 रुपये जुर्माना

कोविड-19 के बढ़ते मामलों और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल (Health Protocol) का पालन करने में लोगों को दी गई ढिलाई के बीच तमिलनाडु सरकार ने बीते 22 अप्रैल को फेस-मास्क नहीं पहनने वालों पर फिर से जुर्माना लगाना शुरू कर दिया। स्टालिन सरकार (Stalin Government) ने संबंधित विभागों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि राज्य में इस नियम का सख्ती से पालन किया जाए। मुख्य स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन (Chief Health Secretary J Radhakrishnan) ने कहा कि जनता से 500 रुपये का जुर्माना वसूलने का निर्णय कोविड-19 (COVID-19) दिशा निर्देशों का पालन करने में लोगों के बीच दिखाई गई ढिलाई की पृष्ठभूमि में था।

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि हमने स्थानीय प्रशासन, स्वास्थ्य और पुलिस विभाग के अधिकारियों को उन लोगों से जुर्माना वसूलने का निर्देश दिया है, जो सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क के नजर आएंगे। पिछले दिनों कोविड की दर में गिरावट के बाद, राज्य में कुछ दिनों से नए व सक्रिय मामलों में वृद्धि हुई है। 21 अप्रैल को राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) के 39 नए मामले देखे गए।

पढ़ें :- जीभ और सिर काटने वाले बयान पर स्वामी प्रसाद मौर्य का पलटवार, कहा-अगर यही बात कोई और कहता तो यही ठेकेदार उसे आतंकवादी कहते

राधाकृष्णन ने कहा कि इन दिनों लोगों को सार्वजनिक रूप से फेस-मास्क पहने नहीं देखा जा रहा था। उन्होंने कहा कि वे महानगरीय बस या सार्वजनिक स्थान पर यात्रा कर रहे होंगे, लेकिन उन्हें मास्क पहने नहीं देखा जा सकता है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिला प्रशासन को मास्क नहीं पहनने पर जनता से 500 रुपये का जुर्माना वसूलने का निर्देश दिया है। लोगों से सरकार ने निर्धारित कोविड रोकथाम दिशा निर्देशों का पालन करने की अपील की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...