कोरोना का कहर से मीलो पैदल जलने को मजबूर यात्री, सरकार नहीं दे रही ध्यान

pic
कोरोना का कहर से मीलो पैदल जलने को मजबूर यात्री, सरकार नहीं दे रही ध्यान

नई दिल्ली। कोरोना का ऐसा कहर की हर कोई सकते में है। अलग अलग देशों में देखा जाए तो हजारों लोग कोरोना के कहर से काल के गाल समा चूके। अभी कोरोना का कहर लगातार जारी है। वही कोरोना वायरस जैसे फैली महामारी से लोग बच कर अपने घरों का रूख अख्तियार कर रहे हैं। लॉक डाउन होने की वजह से सवारी नही मिलती तो लोग पैडल ही अपने मंजिल की तरफ बढ़ रहे हैं।

Corona Forced To Burn Miles On Foot With Havoc Government Is Not Paying Attention :

लेकिन यात्रियों की परेशानी को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने साधन मुहैया कराया जहां लोग अब साधन से चल कर घर पहुँच रहे हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी यात्री है सरकार के व्यवस्था करने के वावजूद भी दूर दराज फंसे यात्रिय पैदल भी सफर कर रहे हैं।

जब ग्राउंड रिपोर्ट जब जाकर हमारी टीम ने देखा तो सब कुछ सही पाया। कुछ लोग ऐसे भी दिखे जो मिलो से सफर कर गोरखपुर पहुँचे। जब उनसे बात किया तो उनका कहना था कि कही बस मिल रहा है तो कुछ दूर पैडल भी चल रहे हैं हम लोग और किसी तरह की परेशानी नही है।

गोरखपुर के नौसढ़ चौराहे पर जो NH 28 पर इसी रास्ते यात्री आ रहे है क्योंकि येही वह मार्ग है जो सबको इसी रास्ते हो कर जाना पड़ेगा. दूर दराज से आये हुए यात्रियों को चाहे साधन से या पैडल जिस भी तरह लोग जब गोरखपुर पहुचं रहे हैं उनकी थर्मल कैमरा से स्क्रीनिंग की जा रही है और खाने के पैकेज और विस्कीट भी दिया जा रहा है।

भारत ही नही बल्कि पूरे विश्व को कोरोना ने अपने चपेट में लिया। who ने महामारी घोषित कर दिया। वही देश के प्रधानमंत्री ने 21 दिनों का लॉकडाउन सम्पूर्ण रूप से कर दिया। वही दूर दराज फंसे लोग जब कोई साधन नही मिला तो पैडल निकले लगे। तमाम से परेशानिया भी झेली। लेकिन जब मीडिया में खबर आई तो उत्तर प्रदेश सरकार ने तत्काल यात्रियों के आने जाने के साधन की व्यवस्था की.जो आप खुद देख सकते हैं।  

रिपोर्ट- रवि जाइसवाल

नई दिल्ली। कोरोना का ऐसा कहर की हर कोई सकते में है। अलग अलग देशों में देखा जाए तो हजारों लोग कोरोना के कहर से काल के गाल समा चूके। अभी कोरोना का कहर लगातार जारी है। वही कोरोना वायरस जैसे फैली महामारी से लोग बच कर अपने घरों का रूख अख्तियार कर रहे हैं। लॉक डाउन होने की वजह से सवारी नही मिलती तो लोग पैडल ही अपने मंजिल की तरफ बढ़ रहे हैं। लेकिन यात्रियों की परेशानी को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने साधन मुहैया कराया जहां लोग अब साधन से चल कर घर पहुँच रहे हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी यात्री है सरकार के व्यवस्था करने के वावजूद भी दूर दराज फंसे यात्रिय पैदल भी सफर कर रहे हैं। जब ग्राउंड रिपोर्ट जब जाकर हमारी टीम ने देखा तो सब कुछ सही पाया। कुछ लोग ऐसे भी दिखे जो मिलो से सफर कर गोरखपुर पहुँचे। जब उनसे बात किया तो उनका कहना था कि कही बस मिल रहा है तो कुछ दूर पैडल भी चल रहे हैं हम लोग और किसी तरह की परेशानी नही है। गोरखपुर के नौसढ़ चौराहे पर जो NH 28 पर इसी रास्ते यात्री आ रहे है क्योंकि येही वह मार्ग है जो सबको इसी रास्ते हो कर जाना पड़ेगा. दूर दराज से आये हुए यात्रियों को चाहे साधन से या पैडल जिस भी तरह लोग जब गोरखपुर पहुचं रहे हैं उनकी थर्मल कैमरा से स्क्रीनिंग की जा रही है और खाने के पैकेज और विस्कीट भी दिया जा रहा है। भारत ही नही बल्कि पूरे विश्व को कोरोना ने अपने चपेट में लिया। who ने महामारी घोषित कर दिया। वही देश के प्रधानमंत्री ने 21 दिनों का लॉकडाउन सम्पूर्ण रूप से कर दिया। वही दूर दराज फंसे लोग जब कोई साधन नही मिला तो पैडल निकले लगे। तमाम से परेशानिया भी झेली। लेकिन जब मीडिया में खबर आई तो उत्तर प्रदेश सरकार ने तत्काल यात्रियों के आने जाने के साधन की व्यवस्था की.जो आप खुद देख सकते हैं।   रिपोर्ट- रवि जाइसवाल