कोरोना का कहर: मेड से हुआ 20 लोगों को कोरोना, क्षेत्र के 750 लोग क्वारंटाइन

delhi corona
महाराष्ट्र कोरोना संक्रमण के आंकड़ो में चीन से निकला आगे, मरीज़ों की संख्या 86,000 के करीब

नई दिल्ली। कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के पीतमपुरा इलाके के तरुण एंक्लेव में 20 लोग कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद 750 से ज्यादा लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है। इस इलाके को अब कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है।

Corona Havoc 20 People Corona From Meds 750 People Quarantine From Area :

डीएम ने बताया कि, 24 मई को कोरोना पॉजिटिव का पहला केस आया था। लेकिन उसके बाद यहां 20 और मामले सामने आए। कोरोना मरीजों का मामला सामने आने के बाद 24 मई को ही इस एरिया को सील कर दिया गया था और डीसी, नॉर्थ एमसीडी को इस बाबत सैनिटाइजेशन कराने को कहा गया था। वहीं, कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए तीन जून तक पूरे एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। साथ ही तरुण एंक्लेव में मकान नम्बर 130 से लेकर 340 तक के 750 से ज्यादा लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है।

बताया जा रहा है कि, इस इलाके में कोरोना का संक्रमण एक घर से हुआ है, जहां नियमित रूप से एक काम करने वाली महिला आया करती थी। इस महिला से पहले बच्चों को संक्रमण हुआ और फिर घर के सभी लोगों को उससे संक्रमण हो गया। उनके बच्चों से यह संक्रमण कॉलोनी में खेलने वाले अन्य बच्चों को हुआ और फिर उन बच्चों से परिवार वालों में फैल गया। घर के बड़े लोग रोज शाम पार्क भी जाया करते थे, जहां से संक्रमण अन्य लोगों में हुआ और फिर अन्य घरों तक फैल गया। ये सिलसिला तब तक जारी रहा, जब एक व्यक्ति ने बुखार और कोरोना जैसे लक्षण होने पर जांच करवाई। गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना से संक्रिमत लोगों की संख्या 25 हजार के पार चला गया है।

नई दिल्ली। कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के पीतमपुरा इलाके के तरुण एंक्लेव में 20 लोग कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद 750 से ज्यादा लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है। इस इलाके को अब कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। डीएम ने बताया कि, 24 मई को कोरोना पॉजिटिव का पहला केस आया था। लेकिन उसके बाद यहां 20 और मामले सामने आए। कोरोना मरीजों का मामला सामने आने के बाद 24 मई को ही इस एरिया को सील कर दिया गया था और डीसी, नॉर्थ एमसीडी को इस बाबत सैनिटाइजेशन कराने को कहा गया था। वहीं, कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए तीन जून तक पूरे एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। साथ ही तरुण एंक्लेव में मकान नम्बर 130 से लेकर 340 तक के 750 से ज्यादा लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है। बताया जा रहा है कि, इस इलाके में कोरोना का संक्रमण एक घर से हुआ है, जहां नियमित रूप से एक काम करने वाली महिला आया करती थी। इस महिला से पहले बच्चों को संक्रमण हुआ और फिर घर के सभी लोगों को उससे संक्रमण हो गया। उनके बच्चों से यह संक्रमण कॉलोनी में खेलने वाले अन्य बच्चों को हुआ और फिर उन बच्चों से परिवार वालों में फैल गया। घर के बड़े लोग रोज शाम पार्क भी जाया करते थे, जहां से संक्रमण अन्य लोगों में हुआ और फिर अन्य घरों तक फैल गया। ये सिलसिला तब तक जारी रहा, जब एक व्यक्ति ने बुखार और कोरोना जैसे लक्षण होने पर जांच करवाई। गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना से संक्रिमत लोगों की संख्या 25 हजार के पार चला गया है।