इटली में नहीं थम रहा है कोरोना का कहर, एक दिन में 651 लोगों की मौत

corona
इटली में नहीं थम रहा है कोरोना का कहर, एक दिन में 651 लोगों की मौत

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से पूरी दुनिया जूझ रही है. इटली (Italy) में रविवार को इस खतरनाक संक्रमण से 651 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के मामले में इटली दुनिया में करीब 5500 मौतों के साथ सबसे ऊपर पहुंच गया है। कोरोना वायरस संक्रमण से शनिवार को हुई 793 मौतों के मुकाबले रविवार को कम लोगों की जान गई।

Corona Havoc Not Stopping In Italy 651 People Died In One Day :

कुछ राहत की उम्मीद

ताजा आंकड़ों के मुताबिक इटली में 5,560 नए केस सामने आए हैं। वहीं, रविवार को 651 लोगों की मौत के साथ मरने वालों का आंकड़ा 5500 के करीब पहुंच गया। हालांकि, इन हालात के बीच राहत की भी खबर है। ताजा आंकड़ा हर दिन के हिसाब से होती बढ़ोतरी में अब तक का सबसे कम रहा है। शनिवार के मुकाबले मरने वालों की संख्या में सिर्फ 10.4% बढ़ोतरी देखी गई जो पिछले महीने वायरस की शुरुआत के बाद से सबसे कम है।  

इटली झेल रहा त्रासदा

इटली की आबादी ज्यादातर बुजुर्ग होने के कारण इन लोगों को बचा पाना एक बड़ी चुनौती बन चुका है। आलम यह है कि शहर की दीवारों से लेकर अखबार के पन्ने तक हर दिन हो रहीं मौतों के शोक-संदेशों से पटे पड़े हैं। यहां तक कि शवों को दफनाने में भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, रविवार को दर्ज की गई गिरावट से यह उम्मीद जताई जा सकती है कि आने वाले दिनों में संकट के बादल हटेंगे।  

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से पूरी दुनिया जूझ रही है. इटली (Italy) में रविवार को इस खतरनाक संक्रमण से 651 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के मामले में इटली दुनिया में करीब 5500 मौतों के साथ सबसे ऊपर पहुंच गया है। कोरोना वायरस संक्रमण से शनिवार को हुई 793 मौतों के मुकाबले रविवार को कम लोगों की जान गई। कुछ राहत की उम्मीद ताजा आंकड़ों के मुताबिक इटली में 5,560 नए केस सामने आए हैं। वहीं, रविवार को 651 लोगों की मौत के साथ मरने वालों का आंकड़ा 5500 के करीब पहुंच गया। हालांकि, इन हालात के बीच राहत की भी खबर है। ताजा आंकड़ा हर दिन के हिसाब से होती बढ़ोतरी में अब तक का सबसे कम रहा है। शनिवार के मुकाबले मरने वालों की संख्या में सिर्फ 10.4% बढ़ोतरी देखी गई जो पिछले महीने वायरस की शुरुआत के बाद से सबसे कम है।   इटली झेल रहा त्रासदा इटली की आबादी ज्यादातर बुजुर्ग होने के कारण इन लोगों को बचा पाना एक बड़ी चुनौती बन चुका है। आलम यह है कि शहर की दीवारों से लेकर अखबार के पन्ने तक हर दिन हो रहीं मौतों के शोक-संदेशों से पटे पड़े हैं। यहां तक कि शवों को दफनाने में भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, रविवार को दर्ज की गई गिरावट से यह उम्मीद जताई जा सकती है कि आने वाले दिनों में संकट के बादल हटेंगे।