1. हिन्दी समाचार
  2. Corona: वैक्सीन बनाने के लिए भारत ने बढ़ाया अहम कदम, जानिए किस पर होगा पहला ट्रायल

Corona: वैक्सीन बनाने के लिए भारत ने बढ़ाया अहम कदम, जानिए किस पर होगा पहला ट्रायल

Corona India Has Taken Important Steps To Make Vaccine Know Who Will Be The First Trial

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली :देशभर में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारत समेत दुनियाभर के कई वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में दिन-रात एक कर रहे हैं. इसी बीच भारत ने भी कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर एक अहम कदम बढ़ाया है.

पढ़ें :- 17 जनवरी 2021 का राशिफल: इस राशि के जातकों को मिलने वाली है शुभ सूचना, जानिए अपनी राशि का हाल

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के साथ मिलकर देश में ही कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन तैयार करने की दिशा में काम शुरू कर दिया है. दोनों की कोशिश है कि कोरोना के इलाज के लिए देश में ही वैक्सीन तैयार की जाए.

बता दें कि कोरोना की वैक्सीन को तैयार करने के लिए पुणे के लैब से वायरस स्ट्रेन को भारत बायोटेक को भेज दिया गया है. जानकारी के अनुसार, यदि वैक्सीन बन जाती है तो सबसे पहले वहां ये जानवरों पर इस्तेमाल की जाएगी. जानवरों पर ट्रायल सफल होने के बाद इंसानों पर इसका ट्रायल किया जाएगा.

वैज्ञानिकों ने किया दावा, पहली कोरोना वैक्सीन बनाने में इटली सफल-
इटली ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में सफलता हासिल कर ली है. ख़बरों के अनुसार, इटली कोरोना की वैक्सीन बनाने वाले पहला ऐसा देश बन गया है जो इंसानों पर भी असरदार है. इस बात की पुष्टि रोम के ‘इंफेक्शियस डिसीज स्पैलनज़ानी हॉस्पिटल’ में हुए एक परीक्षण के दौरान हुई है.

इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस वैक्सीन ने चूहों के शरीर में एंटीबॉडीज जेनरेट की है जिसका असर इंसान की कोशिकाओं पर भी होता है. वैक्सीन बनाने वाली एक फर्म ‘ताकीज़’ के सीईओ लिगी ऑरिसिशियो ने कहा कि “यह इटली में वैक्सीन का परीक्षण करने वाले उम्मीदवारों का सबसे एडवांस स्टेज है.”

पढ़ें :- रामपुर:मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की चौदह सौ बीघा जमीन सरकार के नाम करने के आदेश,जाने पूरा मामला

वहीं दूसरी ओर शोधकर्ताओं ने रिपोर्ट में कहा, “इम्युनिटी जेनरेट करने वाले अब तक हमारे पांच वैक्सीन कैंडिडेट्स का कोरोना वायरस पर असर हुआ है. वैक्सीन के दूसरे प्रयोग में हमें ज्यादा बेहतर परिणाम मिलने की उम्मीद है.”

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...