कोरोना संक्रमित ग्रोथ रेट में आ रही गिरावट, देश में 86 फीसदी केस 10 राज्यों में हैं : स्वास्थ्य मंत्रालय

rajesh bhushn
कोरोना संक्रमित ग्रोथ रेट में आ रही गिरावट, देश में 86 फीसदी केस 10 राज्यों में हैं : स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली। देश में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े आठ लाख के पर पहुंच चुका है। हालांकि, इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा है कि पहले की आपेक्षा अब कोरोना वायरस के ग्रोथ रेट में गिरावट आ रही है। इसके साथ ही मृत्यू दर भी 2.6 फीसदी है। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया था कि कोरोना संक्रमित करीब 62 फीसदी मरीज ठीक हो रहे हैं।

Corona Infected Growth Rate Declines 86 Of Cases In The Country Are In 10 States Health Ministry :

स्वास्थ्य मंत्रालय के ओएसडी राजेश भूषण ने बताया कि देश में 86 फीसदी केस दस राज्यों में हैं, जिनमें सबसे ज्याादा 50 फीसदी केस महाराष्ट्र और तमिलनाडु में हैं। वहीं, 8 अन्य राज्यों में 36 फीसदी केस हैं। मंत्रालय ने आज बताया कि दो मई से 30 मई के बीच रिकवरी केसों के ​मुकाबले एक्टिव केस ज्यादा थे। इसके बाद से एक्टिव केस और रिकवरी केस के बीच अंतर बढ़ रहा है।

आज एक्टिव केस के मुकाबले रिकवरी केस 1.8 गुना अधिक हैं। वहीं, आज राजेश भूषण ने बताया कि कोरोना संक्रमित करीब 63 फीसदी मरीज रिकवर हो रहे हैं। वहीं, 20 ऐसे राज्य हैं जिनमें यह दर राष्ट्रीय औसत से भी अधिक है। उत्तर प्रदेश में 64 पर्सेंट, ओडिशा में 67 पर्सेंट, असम में 65 पर्सेंट, गुजरात में 70, तमिलनाडु में 65 फीसदी रिकवरी दर है।

राजेश भूषण ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य सगंठन ने कहा है कि यदि आप प्रति 10 लाख की आबादी पर प्रतिदिन 140 लोगों की जांच कर रहे हैं तो यह व्यापक जांच का संकेतक है। देश में 22 ऐसे राज्य हैं जो प्रति 10 लाख की आबादी पर 140 से इससे अधिक जांच कर रहे हैं। हम राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को डब्ल्यूएचओ के मुताबिक टेस्टिंग बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं।

नई दिल्ली। देश में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े आठ लाख के पर पहुंच चुका है। हालांकि, इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा है कि पहले की आपेक्षा अब कोरोना वायरस के ग्रोथ रेट में गिरावट आ रही है। इसके साथ ही मृत्यू दर भी 2.6 फीसदी है। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया था कि कोरोना संक्रमित करीब 62 फीसदी मरीज ठीक हो रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ओएसडी राजेश भूषण ने बताया कि देश में 86 फीसदी केस दस राज्यों में हैं, जिनमें सबसे ज्याादा 50 फीसदी केस महाराष्ट्र और तमिलनाडु में हैं। वहीं, 8 अन्य राज्यों में 36 फीसदी केस हैं। मंत्रालय ने आज बताया कि दो मई से 30 मई के बीच रिकवरी केसों के ​मुकाबले एक्टिव केस ज्यादा थे। इसके बाद से एक्टिव केस और रिकवरी केस के बीच अंतर बढ़ रहा है। आज एक्टिव केस के मुकाबले रिकवरी केस 1.8 गुना अधिक हैं। वहीं, आज राजेश भूषण ने बताया कि कोरोना संक्रमित करीब 63 फीसदी मरीज रिकवर हो रहे हैं। वहीं, 20 ऐसे राज्य हैं जिनमें यह दर राष्ट्रीय औसत से भी अधिक है। उत्तर प्रदेश में 64 पर्सेंट, ओडिशा में 67 पर्सेंट, असम में 65 पर्सेंट, गुजरात में 70, तमिलनाडु में 65 फीसदी रिकवरी दर है। राजेश भूषण ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य सगंठन ने कहा है कि यदि आप प्रति 10 लाख की आबादी पर प्रतिदिन 140 लोगों की जांच कर रहे हैं तो यह व्यापक जांच का संकेतक है। देश में 22 ऐसे राज्य हैं जो प्रति 10 लाख की आबादी पर 140 से इससे अधिक जांच कर रहे हैं। हम राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को डब्ल्यूएचओ के मुताबिक टेस्टिंग बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं।