Corona Lock.Down बीजेपी का ‘महाभोज अभियान’, रोज करेगी 5 करोड़ लोगों के खाने का इंतजाम

435BJPs_Mahabhoj_campaign_amid_lockdown_will_make_arrangements_to_feed_5_crore_people_daily
यूपी: BJP संगठन में होने जा रहा है फेरबदल, नेता की परिक्रमा करने वालों को मिलेगी जगह

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है। पीएम ने कहा कि इन 21 दिनों में किसी को परेशानी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया था कि केंद्र और अलग-अलग राज्य सरकारें लोगों के लिए कुछ निर्देश जारी करेंगी। अब केंद्र में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने खुद ही गरीबों की मदद के लिए आगे आकर उनकी खाने जैसी बुनियादी जरूरत को पूरा करने का फैसला किया है। पार्टी ने ऐलान किया है कि देशभर में मौजूद उसके 1 करोड़ कार्यकर्ता 5 करोड़ गरीबों को खाना मुहैया कराएंगे। इसके लिए हर कार्यकर्ता कम से कम 5 गरीबों के लिए खाने का इंतजाम करेगा।

Corona Lock Down Bjps Mahabhoj Abhiyan Will Make Arrangements For 5 Crore People Daily :

भाजपा राष्ट्रीय मीडिया के प्रमुख अनिल बलूनी ने बताया कि भाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यह फैसला लिया। उन्होंने सभी नेताओं से अपील की कि लॉकडाउन के दौरान उनके कार्यकर्ता कम से कम 5 गरीबों को खाना दें। इसके लिए जल्द से जल्द योजना तैयार कर उसे क्रियान्वित करने का आदेश भी दिया जा सकता है। पार्टी की यह योजना ऐसे समय पर आई है, जब कहा जा रहा था कि लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीब और दैनिक वेतनभोगी होंगे, जिनके पास रोजाना खाना जुटाने के अलावा कोई चारा नहीं रहता।

बीजेपी के पदाधिकारियों की एक बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस बैठक में पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गरीब मजदूर और जरूरतमंद लोगों को रोज भोजन मुहैया कराने के लिए “महाभोजन अभियान” चलाने का निर्णय लिया था। इस अभियान के लिए बीजेपी ने एक करोड़ कार्यकर्ताओं का चयन किया है जिनकी सूची तैयार कर ली गई है। बीजेपी के पदाधिकारी की बैठक में “महाभोजन अभियान” चलाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का खासा ख्याल रखा गया और इसीलिए लोगों की भीड़ ना हो सोशल डिस्टेंसिंग भी कायम रहे इसके लिए एक कार्यकर्ता की सिर्फ 5 लोगों को भोजन कराने की जिम्मेदारी देने का फैसला किया गया।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है। पीएम ने कहा कि इन 21 दिनों में किसी को परेशानी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया था कि केंद्र और अलग-अलग राज्य सरकारें लोगों के लिए कुछ निर्देश जारी करेंगी। अब केंद्र में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने खुद ही गरीबों की मदद के लिए आगे आकर उनकी खाने जैसी बुनियादी जरूरत को पूरा करने का फैसला किया है। पार्टी ने ऐलान किया है कि देशभर में मौजूद उसके 1 करोड़ कार्यकर्ता 5 करोड़ गरीबों को खाना मुहैया कराएंगे। इसके लिए हर कार्यकर्ता कम से कम 5 गरीबों के लिए खाने का इंतजाम करेगा। भाजपा राष्ट्रीय मीडिया के प्रमुख अनिल बलूनी ने बताया कि भाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यह फैसला लिया। उन्होंने सभी नेताओं से अपील की कि लॉकडाउन के दौरान उनके कार्यकर्ता कम से कम 5 गरीबों को खाना दें। इसके लिए जल्द से जल्द योजना तैयार कर उसे क्रियान्वित करने का आदेश भी दिया जा सकता है। पार्टी की यह योजना ऐसे समय पर आई है, जब कहा जा रहा था कि लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीब और दैनिक वेतनभोगी होंगे, जिनके पास रोजाना खाना जुटाने के अलावा कोई चारा नहीं रहता। बीजेपी के पदाधिकारियों की एक बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस बैठक में पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गरीब मजदूर और जरूरतमंद लोगों को रोज भोजन मुहैया कराने के लिए "महाभोजन अभियान" चलाने का निर्णय लिया था। इस अभियान के लिए बीजेपी ने एक करोड़ कार्यकर्ताओं का चयन किया है जिनकी सूची तैयार कर ली गई है। बीजेपी के पदाधिकारी की बैठक में "महाभोजन अभियान" चलाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का खासा ख्याल रखा गया और इसीलिए लोगों की भीड़ ना हो सोशल डिस्टेंसिंग भी कायम रहे इसके लिए एक कार्यकर्ता की सिर्फ 5 लोगों को भोजन कराने की जिम्मेदारी देने का फैसला किया गया।