1. हिन्दी समाचार
  2. महज 225 रुपये में मिलेगी कोरोना की दवा, 92 देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराएगा “गवी संगठन”

महज 225 रुपये में मिलेगी कोरोना की दवा, 92 देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराएगा “गवी संगठन”

Corona Medicine Will Be Available For Just Rs 225 Will Prepare 100 Million Doses For India And Poor Countries

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया आज उसकी चपेट में हैं। कई देश कोरोना वैक्सीन को बनाने में लगे हैं लेकिन अभी किसी को पूर्ण रूप से सफलता हाथ नहीं लगी है। वहीं, भारत से अच्छी खबर सामने आई है। दुनिया कि सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी (सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया) ने कहा है कि उसके द्वारा निर्माण की गई कोरोना वैक्सीन की एक खुराक की कीमत महज 3 डॉलर (लगभग 225 रुपये) होगी।

पढ़ें :- दीनदयाल जी ने देश को एकात्म मानववाद जैसी प्रगतिशील विचारधारा दी : रवि किशन

कंपनी 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन करेगी तैयार

कंपनी भारत और कम व मध्यम आय वाले देशों के लिए 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन तैयार करेगी। इसके लिए कंपनी ने गवी वैक्सीन संगठन और बिल व मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ करार किया है, जिसके तहत उसे 15 करोड़ डॉलर (लगभग 1,125 करोड़ रुपये) की मदद मिलेगी।

दवा वितरण के लिए गवी के साथ की साझेदारी

गेट्स फाउंडेशन (गवी वैक्सीन संगठन) को धनराशि मुहैया कराएगा। कंपनी को यह धनराशि उस संभावित नुकसान की भरपाई के लिए दी जाएगी, जिसके तहत वह दवा नियामक और विश्व स्वास्थ्य संगठन की मंजूरी मिलने से पहले कोरोना के संभावित वैक्सीन का उत्पादन करेगी, ताकि मंजूरी मिलने के बाद जल्द से जल्द दुनिया की बड़ी आबादी तक यह वैक्सीन पहुंचाई जा सके। एसआइआइ ने 2021 में भारत और निम्न व मध्यम आय वाले देशों के लिए कोरोना के भावी वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक के निर्माण व वितरण के लिए गवी व गेट्स फाउंडेशन के साथ साझेदारी की है।’

92 देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराएगी गवी

कंपनी ने एक बयान में कहा है कि एस्ट्राजेनेका और नोवावैक्स समेत कोरोना वैक्सीन की एक खुराक की कीमत तीन डॉलर होगी। कंपनी गवी के कोवैक्स एडवांस मार्केट कमिटमेंट के तहत दुनिया के 92 देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराएगी। गवी कोवैक्स फैसिलिटी का नेतृत्व करती है, जिसका गठन पूरी दुनिया में कोरोना की वैक्सीन को सबसे जल्दी और निष्पक्ष तरीके से पहुंचाने के लिए किया गया है। पुणे स्थित एसआइआइ एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन के दूसरे और तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल भी कर रही है। पिछले हफ्ते ही कंपनी को भारत के दवा नियामक से यह परीक्षण करने की अनुमति मिली थी।

पढ़ें :- ड्रग्स के खिलाफ मुहीम को आगे बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री जी का आभारी हूँ: सांसद रवि किशन

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...