1. हिन्दी समाचार
  2. कोरोना : मुख्यमंत्रियों संग बैठक में गमछे का मास्क पहने दिखे PM मोदी

कोरोना : मुख्यमंत्रियों संग बैठक में गमछे का मास्क पहने दिखे PM मोदी

Corona Pm Modi Seen Wearing A Mask Of Skimpy In A Meeting With Chief Ministers

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को कम करने के लिए पिछले 19 दिनों से लॉकडाउन (lockdown) चल रहा है। 21 दिन के इस लॉकडाउन में किसी को भी घर से निकलने की इजाजत नहीं दी गई है। लॉकडाउन को बढ़ाया जाए या नहीं इसे लेकर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने बैठक की। 

पढ़ें :- Birthday special: दुबई में सेलिब्रेट करेगी नम्रता अपना बर्थड़े, पार्टी में शामिल होंगे ये लोग

इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी गमछे का मास्क पहने नजर आए। इसके जरिए उन्होंने एक बार फिर लोगों को यह संदेश देने की कोशिश की है कि कोरोना के संक्रमण से बचना है तो अपनी नाक और मुंह को ढकना होगा। इसके लिए जरूरी नहीं है कि महंगे मास्क ही पहने जाएं।

दरअसल कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने यूपी के लोगों से बात करते हुए सलाह दी थी कि अगर उनके पास मास्क खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं तो वह गमछे और रुमाल से भी अपना चेहरा ढक सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचने के लिए मुंह का कवर करना जरूरी है। इसके लिए गमछा, कपड़ा, रुमाल कुछ भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के विधायकों, जिलाध्‍यक्ष और महानगर अध्‍यक्ष से फोन पर लॉकडाउन की स्थिति की जानकारी ली थी। इस दौरान उन्होंने सभी को समझाने की कोशिश की थी कि आप सभी मास्क पर पैसा मत खर्च कीजिए। उन्होंने कहा था कि यूपी के लोग तो गमछा लगाते हैं ना तो गुमछे से मुंह बांधकर ही घर से बाहर निकलना चाहिए।

लॉकडाउन बढ़ाए जाने के दिए संकेत

पढ़ें :- कैटरीना कैफ की बहन की सल्लू मियां ने तारीफ, पोस्टर शेयर कर लिखी ये बात...

प्रधानमंत्री के साथ राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक सुबह 11 बजे शुरू हुई। ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि केंद्र सरकार कुछ छूट के साथ देशव्यापी लॉकडाउन को बढ़ा सकती है। पंजाब और ओडिशा ने पहले ही 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों से विभिन्न आयामों को लेकर विचार मांगे हैं जिसमें यह पूछा गया है कि क्या कुछ अन्य श्रेणियों के लोगों और सेवाओं को छूट दिए जाने की जरूरत है। वर्तमान लॉकडाउन में केवल आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है।

कोरोना से अबतक 251 लोगों की हो चुकी है मौत

विभिन्न राज्यों के रिपोर्ट के आधार पर गुरुवार को रात 9.30 बजे देशभर में कोरोना वायरस से 7510 लोग संक्रमित हुए हैं जबकि इसके कारण 251 लोगों की मौत हो चुकी है और 700 लोगों को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, कोरोना वायरस के संक्रमण के 7447 मामले सामने आए हैं और इसके कारण 239 लोगों की मौत हो चुकी है।  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...