1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मास्क, सैनिटाइजर और दो गज दूरी के सिद्धांत को व्यवहार में लाएं : सीएम योगी

मास्क, सैनिटाइजर और दो गज दूरी के सिद्धांत को व्यवहार में लाएं : सीएम योगी

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि प्रदेश में कोरोना के रिकवरी दर में हर दिन होता सुधार संतोष का विषय है। हालांकि लोगों को कोविड प्रोटोकाल के अक्षरश: पालन किये जाने की जरूरत है। श्री योगी ने यहां टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक में कहा कि कोविड प्रबंधन की दिशा में टीम वर्क से अच्छे परिणाम मिल रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ । यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि प्रदेश में कोरोना के रिकवरी दर में हर दिन होता सुधार संतोष का विषय है। हालांकि लोगों को कोविड प्रोटोकाल के अक्षरश: पालन किये जाने की जरूरत है।

पढ़ें :- बीजेपी नेता राघवेन्द्र सरकार ने ग्रामीणों की सुनी समस्या, जल्द समाधान का दिया आश्वासन

श्री योगी ने यहां टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक में कहा कि कोविड प्रबंधन की दिशा में टीम वर्क से अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। पिछले करीब एक सप्ताह से प्रदेश के रिकवरी दर में हर दिन सुधार देखने को मिल रहा है।विगत 24 घंटे में प्रदेश में 35,903 लोग कोविड से लड़ाई जीत कर स्वस्थ हुए हैं। सभी प्रदेशवासी कोविड विहेवियर के अनुरूप आचरण करें। मास्क, सैनिटाइजर और दो गज दूरी के सिद्धांत को व्यवहार में लाएं।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं की दृष्टि से सीएचसी एक छोटी और अति महत्वपूर्ण इकाई है। यहां ऑक्सीजन प्लांट लगाने की लंबी प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के साथ ही अपेक्षा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जैसी तुरंत उपयोग में आने वाली उपयोगी प्रणाली प्रभावी हो सकती है। प्रदेश के सभी सीएचसी में न्यूनतम 10-10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने की कार्रवाई हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार करोड़ टेस्ट के साथ उत्तर प्रदेश सर्वाधिक कोविड टेस्ट करने वाला राज्य है। इसे लगातार बढ़ाये जाने की जरूरत है। सभी निजी और सरकारी प्रयोगशालाओं की क्षमता को दोगुना करने की कार्रवाई तेज की जाए।

उन्होंने कहा कि संक्रमण की दृष्टि से हमें सभी परिस्थितियों के लिए तैयार रहना होगा। अगले कुछ दिनों के भीतर प्रदेश में कोविड डेडिकेटेड बेड्स की वर्तमान क्षमता को दोगुना किया जाए। स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग सरकारी व्यवस्था के साथ-साथ निजी क्षेत्र के सहयोग से बेड्स को दोगुना करना सुनिश्चित कराए। सचिव स्तर के एक अधिकारी की जिम्मेदारी इस कार्य में लगाया जाए। इसकी दैनिक मॉनिटरिंग की जानी चाहिए।

पढ़ें :- पीएम मोदी 25 अक्टूबर को सिद्धार्थनगर को देंगे मेडिकल कॉलेज का तोहफा, सीएम योगी ने किया निरीक्षण

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...