कोरोना: लॉकडाउन के दौरान सोशल मीडिया पर फैलती जा रही ये अफवाहें, हो जायें सावधान

corona
कोरोना अपडेट: दुनिया भर में 32 लाख से ज़्यादा लोग संक्रमित, भारत में 33 हजार के पार

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर दुनिया के साथ साथ भारत में भी खतरा बढ़ता चला जा रहा है। अभी तक कोरोना से संक्रमित मरीजो की संख्या 1400 के आस पास पंहुच गयी है। वहीं 21 दिन के लॉक डाउन के दौरान सोशल मीडिया पर भी अफवाहों का सिलसिला जारी है। कहीं लॉक डाउन के समय को लेकर अफवाहें तो कहीं कोरोना को लेकर, वहीं कुछ मैसेज सेैनिटाईजर को लेकर भी भ्रम फैला रहे हैं। इनकी वजह से लोगों में घबराहट और चिंता बढती चली जा रही है। हम आपको रूबरू करवाने जा रहे हैं ऐसी ही 5 अफवाहों से।

Corona These Rumors Are Spreading On Social Media During Lockdown Be Careful :

लॉकडाउन का समय बढ़ेगा
सोशल मीडिया लॉकडाउन को लेकर एक मैसेज तेजी से फैल रहा है, बताया जा रहा है कि सरकार लॉकडाउन का समय आगे बढ़ा सकती है। जनता को सामान जमा करना चाहिए। मगर यह पूरी तरह से अफवाह है। इस पर केंद्र सरकार की ओर से कहा गया कि अभी लॉकडाउन का समय बढ़ाने पर कोई विचार नहीं किया गया।

आपातकाल के लिए सेना में भर्ती शुरू
सोशल मीडिया पर ये भी फैलाया जा रहा है कि देश में आपाताकाल लगाया जा सकता है। देश में फैली आपाातकाल लगाने की अफवाह भी पूरी तरह से फर्जी है। फर्जी दावा किया जा रहा है कि इसके लिए सेना तुरंत भर्ती भी शुरू करने जा रही है। मगर सेना ने इस पर सफाई देकर इसे पूरी तरह से खारिज कर दिया है।

डॉक्टर की मौत
सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में एक डॉक्टर की कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का इलाज करने के दौरान मौत हो गई। यह भी कतई झूठ है। जिस तस्वीर को प्रचारित किया जा रहा है वह दुबई के डॉक्टर की है, जो जीवित है।

लॉकडाउन के लिए इंटरनेट होगा बंद
इंटरनेट को लेकर भी सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के साथ यह संदेश साझा किया जा रहा है कि देश में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए जल्द ही इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी जाएंगी। हालांकि, यह भी पूरी तरह से अफवाह है और लोगों में भ्रम की स्थिति पैदा की जाने की महज एक कोशिश है।

सैनिटाइजर से हाथ जलता है
सोशल मीडिाय पर एक फोटो वायरल हो रही है। इसमें जले हाथ दिख रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि हैंड सैनिटाइजर इस्तेमाल करने से गैस चूल्हा चलाते ही महिला के हाथों तक आग पहुंच गई। डॉक्टरों ने इसे कोरी अफवाह बताया है।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर दुनिया के साथ साथ भारत में भी खतरा बढ़ता चला जा रहा है। अभी तक कोरोना से संक्रमित मरीजो की संख्या 1400 के आस पास पंहुच गयी है। वहीं 21 दिन के लॉक डाउन के दौरान सोशल मीडिया पर भी अफवाहों का सिलसिला जारी है। कहीं लॉक डाउन के समय को लेकर अफवाहें तो कहीं कोरोना को लेकर, वहीं कुछ मैसेज सेैनिटाईजर को लेकर भी भ्रम फैला रहे हैं। इनकी वजह से लोगों में घबराहट और चिंता बढती चली जा रही है। हम आपको रूबरू करवाने जा रहे हैं ऐसी ही 5 अफवाहों से। लॉकडाउन का समय बढ़ेगा सोशल मीडिया लॉकडाउन को लेकर एक मैसेज तेजी से फैल रहा है, बताया जा रहा है कि सरकार लॉकडाउन का समय आगे बढ़ा सकती है। जनता को सामान जमा करना चाहिए। मगर यह पूरी तरह से अफवाह है। इस पर केंद्र सरकार की ओर से कहा गया कि अभी लॉकडाउन का समय बढ़ाने पर कोई विचार नहीं किया गया। आपातकाल के लिए सेना में भर्ती शुरू सोशल मीडिया पर ये भी फैलाया जा रहा है कि देश में आपाताकाल लगाया जा सकता है। देश में फैली आपाातकाल लगाने की अफवाह भी पूरी तरह से फर्जी है। फर्जी दावा किया जा रहा है कि इसके लिए सेना तुरंत भर्ती भी शुरू करने जा रही है। मगर सेना ने इस पर सफाई देकर इसे पूरी तरह से खारिज कर दिया है। डॉक्टर की मौत सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में एक डॉक्टर की कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का इलाज करने के दौरान मौत हो गई। यह भी कतई झूठ है। जिस तस्वीर को प्रचारित किया जा रहा है वह दुबई के डॉक्टर की है, जो जीवित है। लॉकडाउन के लिए इंटरनेट होगा बंद इंटरनेट को लेकर भी सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के साथ यह संदेश साझा किया जा रहा है कि देश में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए जल्द ही इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी जाएंगी। हालांकि, यह भी पूरी तरह से अफवाह है और लोगों में भ्रम की स्थिति पैदा की जाने की महज एक कोशिश है। सैनिटाइजर से हाथ जलता है सोशल मीडिाय पर एक फोटो वायरल हो रही है। इसमें जले हाथ दिख रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि हैंड सैनिटाइजर इस्तेमाल करने से गैस चूल्हा चलाते ही महिला के हाथों तक आग पहुंच गई। डॉक्टरों ने इसे कोरी अफवाह बताया है।