कोरोना अपडेट: यूपी के कुल संक्रमितों में आधे से ज्यादा हुए स्वस्थ

corona
उत्तर प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट 59.51 फीसदी, तेजी से ठीक हो रहे मरीज

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से कोरोना वायरस महामारी का असर कम दिखाई दे रहा है, जोकि सूबे के लिए अच्‍छी खबर कही जा सकती है. उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि उत्‍तर प्रदेश में अभी 1730 एक्टिव कोरोना केस हैं और 1973 लोग पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. जबकि कल 5833 सैंपल्स की जांच की गई. यही नहीं, बुधवार को ही प्रदेश ने 1,53,139 टेस्ट पूरे कर लिए और अभी तक 370 टेस्टिंग पूल लगाए गए जिसमें से 27 पॉजिटिव, तो 343 निगेटिव आए हैं.

Corona Update More Than Half Of Ups Total Infected Become Healthy :

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार सुबह सहारनपुर-मुजफ्फरनगर सीमा पर मजदूरों के साथ हुई घटना को संज्ञान में लिया. ऐसी घटनाएं दोबारा न हो इसलिए सभी जनपद के जिला अधिकारी और पुलिस अधिकारियों को पैदल लोगों को संसाधनों की मदद से सुरक्षित उनके गंतव्य तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं.

इस वक्‍त यूपी सरकार प्रदेश के नागरिकों की हर संभव मदद में लगी हुई है. जबकि केन्द्र की ओर से आर्थिक पैकेज की घोषणा के 24 घंटे के भीतर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में एमएसएमई क्षेत्र के 56 हजार से अधिक उद्यमियों को 2000 करोड रूपये से अधिक का कर्ज एकमुश्त प्रदान किया. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (MSME) क्षेत्र के 56 हजार 754 उद्यमियों को एकमुश्त दो हजार 2 करोड़ के कर्ज बांटे हैं.

प्रदेश सरकार ने एमएसएमई सेक्टर को मजबूत करने की तैयारी पहले से ही कर रखी थी. केन्द्र से आर्थिक पैकेज के ऐलान के तत्काल बाद लॉकडाउन अवधि में भी इतनी बड़ी धनराशि का कर्ज देने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया. उन्‍होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक क्लिक पर आनलाइन 2 हजार 2 करोड़ रूपये का कर्ज देकर रोजगार संगम आनलाइन मेला की व्यापक शुरुआत की. जबकि सीएम ने एक टेबल पर उद्यमियों और बैंकर्स को बैठाकर 56 हजार 754 उद्यमियों को एक क्लिक पर 2 हजार 2 करोड़ रुपये का कर्ज प्रदान किया गया. इन 56 हजार 754 इकाइयों से दो लाख लोगों को रोजगार की गारंटी मिली है.

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से कोरोना वायरस महामारी का असर कम दिखाई दे रहा है, जोकि सूबे के लिए अच्‍छी खबर कही जा सकती है. उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि उत्‍तर प्रदेश में अभी 1730 एक्टिव कोरोना केस हैं और 1973 लोग पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. जबकि कल 5833 सैंपल्स की जांच की गई. यही नहीं, बुधवार को ही प्रदेश ने 1,53,139 टेस्ट पूरे कर लिए और अभी तक 370 टेस्टिंग पूल लगाए गए जिसमें से 27 पॉजिटिव, तो 343 निगेटिव आए हैं. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार सुबह सहारनपुर-मुजफ्फरनगर सीमा पर मजदूरों के साथ हुई घटना को संज्ञान में लिया. ऐसी घटनाएं दोबारा न हो इसलिए सभी जनपद के जिला अधिकारी और पुलिस अधिकारियों को पैदल लोगों को संसाधनों की मदद से सुरक्षित उनके गंतव्य तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं. इस वक्‍त यूपी सरकार प्रदेश के नागरिकों की हर संभव मदद में लगी हुई है. जबकि केन्द्र की ओर से आर्थिक पैकेज की घोषणा के 24 घंटे के भीतर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में एमएसएमई क्षेत्र के 56 हजार से अधिक उद्यमियों को 2000 करोड रूपये से अधिक का कर्ज एकमुश्त प्रदान किया. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (MSME) क्षेत्र के 56 हजार 754 उद्यमियों को एकमुश्त दो हजार 2 करोड़ के कर्ज बांटे हैं. प्रदेश सरकार ने एमएसएमई सेक्टर को मजबूत करने की तैयारी पहले से ही कर रखी थी. केन्द्र से आर्थिक पैकेज के ऐलान के तत्काल बाद लॉकडाउन अवधि में भी इतनी बड़ी धनराशि का कर्ज देने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया. उन्‍होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक क्लिक पर आनलाइन 2 हजार 2 करोड़ रूपये का कर्ज देकर रोजगार संगम आनलाइन मेला की व्यापक शुरुआत की. जबकि सीएम ने एक टेबल पर उद्यमियों और बैंकर्स को बैठाकर 56 हजार 754 उद्यमियों को एक क्लिक पर 2 हजार 2 करोड़ रुपये का कर्ज प्रदान किया गया. इन 56 हजार 754 इकाइयों से दो लाख लोगों को रोजगार की गारंटी मिली है.