1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Good News: यूपी में 26 जनवरी के बाद कभी भी शुरू हो सकता है कोरोना टीकाकरण

Good News: यूपी में 26 जनवरी के बाद कभी भी शुरू हो सकता है कोरोना टीकाकरण

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: यूपी में कोरोना टीकाकरण अभियान 26 जनवरी के बाद कभी भी शुरू हो जाएगा। गोरखपुर में इसके लिए अर्बन प्राइमरी हेल्थ सेंटर और निजी अस्पताल केंद्र बनेंगे। हर केंद्र पर अधिकतम 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा।

पढ़ें :- MSP का मुद्दा: केंद्र सरकार बातचीत के लिए हुई तैयार, मांगे 5 किसान नेताओं के नाम

यह जानकारी मंगलवार को सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी ने निजी नर्सिंग होम संचालक व आईएमए पदाधिकारियों के साथ बैठक में दी। इस दौरान टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ. एनके पांडेय भी मौजूद रहे। बैठक में टीकाकरण की रणनीति को लेकर चर्चा की गई। इस दौरान सीएमओ ने बताया कि बड़े अस्पतालों को टीकाकरण के लिए केंद्र बनाया जा सकता है। केंद्र के लिए कम से कम तीन कमरों की जरूरत होगी जिसमें से वेटिंग एरिया, वैक्सीनेशन एरिया और पोस्ट ऑब्जर्वेशन एरिया शामिल है।

सीएमओ ने बताया कि टीकाकरण के लिए सरकार ने प्राथमिकता तय कर दी है। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगना है। इसमें डॉक्टर से लेकर स्वीपर तक शामिल हैं। टीकाकरण तय केंद्रों पर होगा। वैक्सीन के लिए स्वास्थ्यकर्मी के मोबाइल पर मैसेज आएगा।

आईएमए के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डॉ. अजय शुक्ला ने बताया कि यह लाइव वायरस की वैक्सीन है। इसमें कोरोना वायरस के नियंत्रित रूप से तैयार की गई है। इसे लाइव एटन्यूटेड वैक्सीन कहते हैं। भारत बायोटेक, सिरम इंस्टीट्यूट या रशियन वैक्सीन में से एक हो सकती है। मीटिंग में नर्सिंग होम एसोसिएशन की तरफ से अध्यक्ष डॉ. एके चतुर्वेदी, सेक्रेटरी डॉ. धर्मेंद्र राय, आईएमए की तरफ से अध्यक्ष डॉ. मंगलेश श्रीवास्तव, सेक्रेटरी डॉ.वीएन अग्रवाल शामिल रहे।

बैठक में नर्सिंग होम एसोसिएशन के डॉ. खालिद अब्बासी मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि कोरोना से जंग में प्राइवेट डॉक्टरों ने सरकार के साथ कदम से कदम मिलाया है। टीकाकरण अभियान में भी निजी चिकित्सक पीछे नहीं हटेंगे। इस बैठक में इन संगठनों के प्रतिनिधियों के अतिरिक्त यूनिसेफ से गवासुद्दीन, नीलम यादव, यूएनडीपी से पवन सिंह, निसार खान एवं दिलीप गोविंद राव शामिल रहे। बैठक में कोल्ड चेन प्वांइट एवं सत्र स्थल की व्यवस्था, बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण, समाज में कोविड टीके के प्रति फैली भ्रांतियों के बारे में विस्तार से चर्चा की गयी।

पढ़ें :- Corona new variant: सीएम योगी बोले-दूसरे देशों से आ रहे हर व्यक्ति की जांच की जाए

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...