कोरोना वायरस: चीन में अबतक हुई 490 लोगों की मौत, 24 हजार से ज्यादा मामले आ चुके सामने

Corona virus
कोरोना वायरस: चीन में अबतक हुई 490 लोगों की मौत, 24 हजार से ज्यादा मामले आ चुके सामने

बीजिंग। दुनिया में आजकल चीन में फैले कोरोना वायरस को लेकर दहशत का माहौल है। चीन में रहने वाले बाहरी देशों के लोगों को उनके देश वापस बुला रहे हैं। हाल ही में चीन से इंडिया वापस आये लोगों में भी कोरोना वायरस की शिकायत पायी गयी है जिसको लेकर भारत में भी ये संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। वहीं अभी तक चीन में 24 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं, यही नही 490 लोगों की मोत भी हो चुकी है।

Corona Virus 490 People Have Died In China So Far More Than 24 Thousand Cases Have Been Reported :

चीन राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार मंगलवार को इससे 65 लोगों की जान गई और ये सभी हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान से थे। आयोग ने बताया कि मंगलवार को 3,887 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है जिनमें 431 मरीज गंभीर रूप से बीमार हैं। वहीं 262 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।आयोग ने बताया कि 3,219 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और 23,260 लोगों के वायरस से संक्रमित होने की आशंका है। वहीं मंगलवार तक हांगकांग में इसके 18 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी और एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी।

बताया गया कि कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं। इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी। चीन ने वायरस का प्रसार रोकने के प्रयासों के तहत सोमवार को 1000 बिस्तरों वाला एक अस्थायी अस्पताल वुहान में खोला है। वहीं बुधवार को 1300 बिस्तरों वाला एक और अस्पताल तैयार हो जाएगा।

बीजिंग। दुनिया में आजकल चीन में फैले कोरोना वायरस को लेकर दहशत का माहौल है। चीन में रहने वाले बाहरी देशों के लोगों को उनके देश वापस बुला रहे हैं। हाल ही में चीन से इंडिया वापस आये लोगों में भी कोरोना वायरस की शिकायत पायी गयी है जिसको लेकर भारत में भी ये संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। वहीं अभी तक चीन में 24 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं, यही नही 490 लोगों की मोत भी हो चुकी है। चीन राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार मंगलवार को इससे 65 लोगों की जान गई और ये सभी हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान से थे। आयोग ने बताया कि मंगलवार को 3,887 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है जिनमें 431 मरीज गंभीर रूप से बीमार हैं। वहीं 262 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।आयोग ने बताया कि 3,219 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और 23,260 लोगों के वायरस से संक्रमित होने की आशंका है। वहीं मंगलवार तक हांगकांग में इसके 18 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी और एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी। बताया गया कि कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं। इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम' (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी। चीन ने वायरस का प्रसार रोकने के प्रयासों के तहत सोमवार को 1000 बिस्तरों वाला एक अस्थायी अस्पताल वुहान में खोला है। वहीं बुधवार को 1300 बिस्तरों वाला एक और अस्पताल तैयार हो जाएगा।