Corona Virus: पिछले 24 घंटे में सामने आए 83,809 नए मामले, 1,054 लोगों की मौत

    corona

    नई दिल्ली। देश में लगातार कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। और यह आंकड़े आपको चौका देंगे। पिछले 24 घंटे के दौरान वायरस के 83,809 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस वायरस के कारण 1,054 मरीजों की मौत हो गई है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा दी गई है।

    Corona Virus 83809 New Cases 1054 People Died In Last 24 Hours :

    स्वस्थय मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जो आंकडें जारी किए हैं उनके मुताबिक देश में कोरोना वायरस के मामले 49 लाख से ऊपर पहुंच गए हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे के दौरान 83,809 नए मामले सामने आए हैं जबकि 1,054 मरीजों की मौत हो गई है।

    देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 49,30,237 हो गई है। इसमें 9,90,061 सक्रिय मामले हैं। 38,59,400 लोगों ने इस वायरस को मात दी है और ठीक होने के बाद अस्पताल से घर लौटे हैं। वहीं, इस वायरस के चलते अब तक देश में 80,776 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

    मंत्रालय के मुताबिक, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.64 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार देश में अभी 9,90,061 मरीजों का इलाज चल रहा है। यह कुल मामलों का 20.08 फीसदी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक अब तक कुल 5.83 करोड़ नमूनों की जांच हुई है जिनमें से 10.73 लाख नमूनों की जांच सोमवार को की गई। देश में कोविड-19 के मामलों ने सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार किया था, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख के पार पहुंचे।

    देश में पिछले 24 घंटे में 1,054 लोगों की मौत हुई, जिनमें से सबसे ज्यादा 363 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई। कर्नाटक में 119, पंजाब में 68, उत्तर प्रदेश में 62, आंध्र प्रदेश में 60, पश्चिम बंगाल में 58, तमिलनाडु में 53, मध्यप्रदेश में 29, दिल्ली में 26, हरियाणा में 25, छत्तीसगढ़ में 18, गुजरात और जम्मू में 17-17, केरल और उत्तराखंड में 15-15 और राजस्थान और गोवा में 14-14 लोगों की मौत हुई।

    देश में अब तक संक्रमण से 80,776 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र में अब तक 29,894, तमिलनाडु में 8,434, कर्नाटक में 7,384, आंध्र प्रदेश में 4,972, दिल्ली में 4,770, उत्तर प्रदेश में 4,491, पश्चिम बंगाल में 4,003, गुजरात में 3,227, पंजाब में 2,424 और मध्य प्रदेश में 1,791 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि संक्रमण की वजह से मरने वाले 70 फीसदी से ज्यादा लोग दूसरी बीमारियों से भी ग्रसित थे।

    नई दिल्ली। देश में लगातार कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। और यह आंकड़े आपको चौका देंगे। पिछले 24 घंटे के दौरान वायरस के 83,809 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस वायरस के कारण 1,054 मरीजों की मौत हो गई है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा दी गई है। स्वस्थय मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जो आंकडें जारी किए हैं उनके मुताबिक देश में कोरोना वायरस के मामले 49 लाख से ऊपर पहुंच गए हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे के दौरान 83,809 नए मामले सामने आए हैं जबकि 1,054 मरीजों की मौत हो गई है। देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 49,30,237 हो गई है। इसमें 9,90,061 सक्रिय मामले हैं। 38,59,400 लोगों ने इस वायरस को मात दी है और ठीक होने के बाद अस्पताल से घर लौटे हैं। वहीं, इस वायरस के चलते अब तक देश में 80,776 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। मंत्रालय के मुताबिक, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.64 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार देश में अभी 9,90,061 मरीजों का इलाज चल रहा है। यह कुल मामलों का 20.08 फीसदी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक अब तक कुल 5.83 करोड़ नमूनों की जांच हुई है जिनमें से 10.73 लाख नमूनों की जांच सोमवार को की गई। देश में कोविड-19 के मामलों ने सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार किया था, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख के पार पहुंचे। देश में पिछले 24 घंटे में 1,054 लोगों की मौत हुई, जिनमें से सबसे ज्यादा 363 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई। कर्नाटक में 119, पंजाब में 68, उत्तर प्रदेश में 62, आंध्र प्रदेश में 60, पश्चिम बंगाल में 58, तमिलनाडु में 53, मध्यप्रदेश में 29, दिल्ली में 26, हरियाणा में 25, छत्तीसगढ़ में 18, गुजरात और जम्मू में 17-17, केरल और उत्तराखंड में 15-15 और राजस्थान और गोवा में 14-14 लोगों की मौत हुई। देश में अब तक संक्रमण से 80,776 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र में अब तक 29,894, तमिलनाडु में 8,434, कर्नाटक में 7,384, आंध्र प्रदेश में 4,972, दिल्ली में 4,770, उत्तर प्रदेश में 4,491, पश्चिम बंगाल में 4,003, गुजरात में 3,227, पंजाब में 2,424 और मध्य प्रदेश में 1,791 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि संक्रमण की वजह से मरने वाले 70 फीसदी से ज्यादा लोग दूसरी बीमारियों से भी ग्रसित थे।