कोरोना वायरस: भारतीयों को वापस लाने वाले विमान को मंजूरी नहीं दे रहा चीन, वापसी अटकी

China
कोरोना वायरस: भारतीयों को वापस लाने वाले विमान को मंजूरी नहीं दे रहा चीन, वापसी अटकी

नई दिल्ली। चीन में फैले कोरोना वायरस के बीच फंसे भारतीयों को वापस भारत लाने के लिए भेजे जाने वाले विमान को चीन जानबूझकर मंजूरी नहीं दे रहा है। इसके कारण भारतीयों को लाने में देरी हो रही है। बतया जा रहा है कि वायुसेना का सबसे बड़ा सी—17 ग्लोबमास्टर विमान राहत सामग्री लेकर कोरोना वायरस से प्रभावित चीन के वुहान प्रांत जाने के लिए तैयार है और वहां से बुहान में फंसे भारतीयों को लेकर आएगा।

Corona Virus China Not Approving Aircraft To Bring Back Indians Return Stuck :

सूत्रों ने बताया है कि चीन जानबूझकर भारतीय विमान को मंजूरी नहीं दे रहा है। सूत्रों ने बताया कि फ्रांस समेत अन्य देशों से राहत और निकासी उड़ानें हैं अभी भी चीन के लिए जा रही हैं। दवाई लेकर जाने वाले भारतीय विमान को चीन सरकार क्यों मंजूरी देने में देरी कर रही है? क्या चीन भारतीय सहायता में रुचि नहीं रखता है?

सूत्रों ने कहा कि भारत चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई मदद की पेशकश को याद दिला सकता है। चीन को याद दिलाया जा सकता है कि किस तरह भारत सरकार ने चीन को हर संभव सहायता प्रदान करने की पेशकश की थी।

बता दें कि कोरोना वायरस से प्रभावित चीन में वायरस से पीड़ित 1,100 लोगों का इजाफा होने से इससे संक्रमित लोगों की कुल संख्या 75,600 से अधिक हो गई है जबकि वैश्विक स्तर पर यह आंकड़ा करीब 77 हजार पर पहुंच गया है। चीन में इस बीमारी के चलते 118 लोगों ने और दम तोड़ दिया। जिससे वैश्विक स्तर पर इसकी चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 2,247 हो गई है।

नई दिल्ली। चीन में फैले कोरोना वायरस के बीच फंसे भारतीयों को वापस भारत लाने के लिए भेजे जाने वाले विमान को चीन जानबूझकर मंजूरी नहीं दे रहा है। इसके कारण भारतीयों को लाने में देरी हो रही है। बतया जा रहा है कि वायुसेना का सबसे बड़ा सी—17 ग्लोबमास्टर विमान राहत सामग्री लेकर कोरोना वायरस से प्रभावित चीन के वुहान प्रांत जाने के लिए तैयार है और वहां से बुहान में फंसे भारतीयों को लेकर आएगा। सूत्रों ने बताया है कि चीन जानबूझकर भारतीय विमान को मंजूरी नहीं दे रहा है। सूत्रों ने बताया कि फ्रांस समेत अन्य देशों से राहत और निकासी उड़ानें हैं अभी भी चीन के लिए जा रही हैं। दवाई लेकर जाने वाले भारतीय विमान को चीन सरकार क्यों मंजूरी देने में देरी कर रही है? क्या चीन भारतीय सहायता में रुचि नहीं रखता है? सूत्रों ने कहा कि भारत चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई मदद की पेशकश को याद दिला सकता है। चीन को याद दिलाया जा सकता है कि किस तरह भारत सरकार ने चीन को हर संभव सहायता प्रदान करने की पेशकश की थी। बता दें कि कोरोना वायरस से प्रभावित चीन में वायरस से पीड़ित 1,100 लोगों का इजाफा होने से इससे संक्रमित लोगों की कुल संख्या 75,600 से अधिक हो गई है जबकि वैश्विक स्तर पर यह आंकड़ा करीब 77 हजार पर पहुंच गया है। चीन में इस बीमारी के चलते 118 लोगों ने और दम तोड़ दिया। जिससे वैश्विक स्तर पर इसकी चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 2,247 हो गई है।