1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार तेज, 24 घंटों में 1.26 लाख से अधिक केस

कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार तेज, 24 घंटों में 1.26 लाख से अधिक केस

देश में कोरोना वायरस के संक्रमण की तेज रफ्तार चिंता पैदा कर रही है।  राज्य सरकारें वायरस के संक्रमण की गति को रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू जैसे कदम उठा रही है। दूसरी तरफ वैक्सीन का टीकाकरण भी चल रहा है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Corona Virus Infection Intensifies Over 1 26 Lakh Cases In 24 Hours

नई दिल्‍ली: देश में कोरोना वायरस के संक्रमण की तेज रफ्तार चिंता पैदा कर रही है।  राज्य सरकारें वायरस के संक्रमण की गति को रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू जैसे कदम उठा रही है। दूसरी तरफ वैक्सीन का टीकाकरण भी चल रहा है। कोरोना पर काबू पाने के लिए कई राज्‍यों में पहले ही आंशिक लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू के साथ-साथ कई अन्‍य कदम उठाए जा रहे हैं।

पढ़ें :- गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन सप्लाई का दिया आदेश, गंभीर मरीजों को मिलेगी 'नई जिंदगी'

देशभर में कोरोना वायरस के बीते 24 घंटों में 1.26 लाख से अधिक केस सामने आए हैं। यह एक दिन में संक्रमण की अब तक की सबसे बड़ी संख्या है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से गुरुवार (8 अप्रैल) को जारी आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों के दौरान यहां संक्रमण के 1 लाख 26 हजार 789 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 685 लोगों की जान गई है। देश भर में अब तक कोविड-19 वैक्सीन की 9 करोड़ से अधिक डोज लगाई जा चुकी है। देश में कोरोना वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरू हुआ। फिलहाल 45 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण हो रहा है।

यूपी में भी कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए राज्य  सरकार ने कड़े कदम उठाए है। यूपी की राजधानी लखनऊ में 8 अप्रैल से नाइट कर्फ्यू की घोषणा की गई है, जिसके तहत शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। लखनऊ नगर निगम के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में नाइट कर्फ्यू रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। यह आदेश फिलहाल 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक के लिए लागू किया गया है। इस दौरान कोचिंग सेंटर सहित सभी शैक्षणिक संस्थान 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे। हालांकि उन संस्‍थानों को इससे छूट रहेगी, जो सरकार की अनुमति से परीक्षाओं का आयोजन करते हैं। इस दौरान आवश्यक सेवाओं पर कोई पाबंदी नहीं रहेगी।

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पीएम मोदी की आज राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक होगी, जिसमें कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की जाएगी। बीते पांच दिनों में यह पीएम मोदी की इस तरह की दूसरी बैठक होगी, जिसमें वह देश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा करेंगे।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से कोविड कंट्रोल करने का मांगा नेशनल प्लान, भेजा नोटिस

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X