1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. कोरोना वायरस: तिहाड़ में कैदियों के लिए बनाए जा रहे हैं आइसोलेशन वार्ड, जेल प्रशासन में खौफ

कोरोना वायरस: तिहाड़ में कैदियों के लिए बनाए जा रहे हैं आइसोलेशन वार्ड, जेल प्रशासन में खौफ

नई दिल्ली। लगातार देश में कोरोना वायरस को लेकर खौफ बढ़ता चला जा रहा है। जहां स्कूल, कॉलेज, मॉल, जिम, मूवी हॉल, बड़े बड़े मंदिर और पर्यटन स्थल बंद कर दिये गये हैं वहीं अब जेलों प्रशासन भी इसको लेकर सचेत हो गये हैं। तिहाड़ जेल में भी कैदियो के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यही नही ये सुविधा दिल्ली के सारे जिलों में की जा रही है।

कोरोना की वजह से कई देशों ने अपने कैदियों को रिहा कर दिया हैकोरोना की वजह से कई देशों ने अपने कैदियों को रिहा कर दिया है। ईरान को अपनी जेल में बंद करीब 85 हजार कैदियों को जरूर छोड़ना पड़ा। सिर्फ इस डर से कि कहीं जेल में कोरोना दाखिल हो गया तो कैदियों का क्या होगा? ईरान से दूर दिल्ली की तिहाड़ जेल को भी यही चिंता सताने लगी है।

बता दें कि तिहाड़ जेल पिछले दो-तीन महीनों से लगातार सुर्खियों में बना रहता है ​क्योंकि यहां बंद निर्भया के चारों गुनहगारों यानी मुकेश, पवन, अक्ष्य और विनय को 20 मार्च की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दी जानी है। मगर फांसी से पहले तिहाड़ कोरोना को लेकर परेशान है। और परेशानी की सबसे बड़ी वजह है तिहाड़ में कैदियों की जबरदस्त भीड़ है। दिल्ली की सभी जेलों में आइसोलेशन वार्ड बनाए जा रहे हैं। जेल में आने वाले हर नए कैदी की स्क्रीनिंग हो रही है।

बता दें कि तिहाड़ में कुल 9 जेल है। तिहाड़ के अलावा दिल्ली के रोहिणी में 1 जेल और मंडोली में 6 जेल हैं। यानी कुल मिला कर दिल्ली में 16 जेल हैं। इन 16 जेलों की कुल क्षमता करीब 10 हजार है, जबकि इस वक्त इन जेलों में लगभग 18 हजार कैदी रह रहे हैं। दिल्ली की सभी 16 की 16 जेल में आइसोलेशन वार्ड बनाए जा रहे हैं।कैदियो के साथ साथ मुलाकात के लिए आने वाले लोगों की भी स्क्रीनिंग की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...