कोरोना वायरस: सोनिया गांधी ने 21 दिन लॉकडाउन के फैसले को बताया शानदार, PM को खत लिखकर दिये सुझाव

sonia gandhi
कोरोना संकट: कांग्रेसियों द्वारा गरीबों व जरूरतमंदो की मदद करने के लिए सोनिया ने जताया आभार

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर देश में मरीजो की संख्या बढ़कर 639 पंहुच गयी है वहीं अबतक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कल से ही 21 दिन का लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है। पीएम मोदी के इस फैसले का विपक्ष ने भी स्वागत किया है। कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर 21 दिन के लॉकडाउन का समर्थन किया है। वहीं डॉक्टरों और अर्द्धचिकित्सकों की रक्षा करने तथा आपूर्ति श्रृंखला को आसान बनाने के लिए कदम उठाने की मांग की है। इस चिट्ठी में सोनिया ने पीएम से कहा हे ​कि केन्द्र सरकार को चाहिए छह महीनों के लिए सभी ईएमआई को टाल दिया जाये। इस अवधि के लिए बैंकों द्वारा लिया जाने वाला ब्याज भी माफ करना चाहिए।

Corona Virus Sonia Gandhi Told The Decision Of 21 Days Lockdown Brilliant Suggested To Pm By Writing :

सोनिया गांधी की केन्द्र सरकार से अपील

1. जो डॉक्टर कोरोना वायरस से निपटने में लगे हुए हैं, उनके लिए तुरंत N95 मास्क और हैज़मैट सूट का इंतजाम किया जाना है। सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए 15 हजार करोड़ रुपये स्वास्थ्य सेवाओं के लिए दिए हैं।

2. डॉक्टरों के लिए रिस्क अलाउंस का ऐलान होना चाहिए। 1 मार्च से लेकर अगले 6 महीने तक इसे लागू किया जाना चाहिए।

3. एक ऐसे पोर्टल और फोन नंबर की व्यवस्था की जाए, जहां पर कोरोना को लेकर सारी जानकारी उपलब्ध हो। देश के उन सभी अस्पतालों की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाई जानी चाहिए, जहां इसका इलाज हो रहा है।

4. कोरोना के संकट को देखते हुए सरकार को टेंपपरेरी अस्पताल बनाने चाहिए, आईसीयू और वेंटिलेटर की व्यवस्था भी तुरंत की जानी चाहिए।

5. केंद्र सरकार को दिहाड़ी मजदूर, फैक्ट्री लेबर, मनरेगा वर्कर, समेत अन्य गरीब लोगों को सीधे आर्थिक मदद पहुंचानी चाहिए। ये मदद सीधे उनके बैंक खाते में जानी चाहिए।

6. सरकार को किसानों की फसलों की MSP बढ़ानी चाहिए और अगले 6 महीनों तक किसी भी तरह की रिकवरी को रोक देना चाहिए।

7. केंद्र सरकार को तुरंत न्याय जैसी योजना लागू करनी चाहिए, जनधन अकाउंट के जरिए 7500 की मदद लोगों को देनी चाहिए।

8. गरीब परिवार को 10 KG. गेंहू देनी चाहिए, अगले 21 दिनों को देखते हुए इसकी पूर्ति करना जरूरी है।

9. नौकरी पेशा लोगों की सभी ईएमआई 6 महीने के लिए टाल देना चाहिए। इसके अलावा लोन की किश्तों को भी रोक देना चाहिए।

10. उद्योग जगत के लिए टैक्स रिलीफ जैसे ऐलान होने चाहिए. छोटे कारोबारियों पर फोकस करते हुए जल्द राहत का ऐलान होना चाहिए।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर देश में मरीजो की संख्या बढ़कर 639 पंहुच गयी है वहीं अबतक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कल से ही 21 दिन का लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है। पीएम मोदी के इस फैसले का विपक्ष ने भी स्वागत किया है। कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर 21 दिन के लॉकडाउन का समर्थन किया है। वहीं डॉक्टरों और अर्द्धचिकित्सकों की रक्षा करने तथा आपूर्ति श्रृंखला को आसान बनाने के लिए कदम उठाने की मांग की है। इस चिट्ठी में सोनिया ने पीएम से कहा हे ​कि केन्द्र सरकार को चाहिए छह महीनों के लिए सभी ईएमआई को टाल दिया जाये। इस अवधि के लिए बैंकों द्वारा लिया जाने वाला ब्याज भी माफ करना चाहिए। सोनिया गांधी की केन्द्र सरकार से अपील 1. जो डॉक्टर कोरोना वायरस से निपटने में लगे हुए हैं, उनके लिए तुरंत N95 मास्क और हैज़मैट सूट का इंतजाम किया जाना है। सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए 15 हजार करोड़ रुपये स्वास्थ्य सेवाओं के लिए दिए हैं। 2. डॉक्टरों के लिए रिस्क अलाउंस का ऐलान होना चाहिए। 1 मार्च से लेकर अगले 6 महीने तक इसे लागू किया जाना चाहिए। 3. एक ऐसे पोर्टल और फोन नंबर की व्यवस्था की जाए, जहां पर कोरोना को लेकर सारी जानकारी उपलब्ध हो। देश के उन सभी अस्पतालों की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाई जानी चाहिए, जहां इसका इलाज हो रहा है। 4. कोरोना के संकट को देखते हुए सरकार को टेंपपरेरी अस्पताल बनाने चाहिए, आईसीयू और वेंटिलेटर की व्यवस्था भी तुरंत की जानी चाहिए। 5. केंद्र सरकार को दिहाड़ी मजदूर, फैक्ट्री लेबर, मनरेगा वर्कर, समेत अन्य गरीब लोगों को सीधे आर्थिक मदद पहुंचानी चाहिए। ये मदद सीधे उनके बैंक खाते में जानी चाहिए। 6. सरकार को किसानों की फसलों की MSP बढ़ानी चाहिए और अगले 6 महीनों तक किसी भी तरह की रिकवरी को रोक देना चाहिए। 7. केंद्र सरकार को तुरंत न्याय जैसी योजना लागू करनी चाहिए, जनधन अकाउंट के जरिए 7500 की मदद लोगों को देनी चाहिए। 8. गरीब परिवार को 10 KG. गेंहू देनी चाहिए, अगले 21 दिनों को देखते हुए इसकी पूर्ति करना जरूरी है। 9. नौकरी पेशा लोगों की सभी ईएमआई 6 महीने के लिए टाल देना चाहिए। इसके अलावा लोन की किश्तों को भी रोक देना चाहिए। 10. उद्योग जगत के लिए टैक्स रिलीफ जैसे ऐलान होने चाहिए. छोटे कारोबारियों पर फोकस करते हुए जल्द राहत का ऐलान होना चाहिए।