कोरोना का मिलकर करेंगे मुकाबला,भारत-नेपाल के अफसरों ने आपस में की बात

IMG-20200402-WA0042

सोनौली । कोरोना की रोकथाम को लेकर गुरुवार को नेपाल के बेलहिया स्थित कस्टम कार्यालय में भारत व नेपाल के अधिकारियों की बैठक हुई। इसमें दोनों देशों की सीमा के अंदर बने क्वारंटीन की व्यवस्था को बेहतर बनाने, सूचनाओं को साझा करने के साथ सीमा पर सोशल डिस्टेसिंग को कायम रखने पर चर्चा हुई। कोरोना की रोकथाम को लेकर किए जा रहे प्रयासों को और बेहतर बनाने पर सुझावों का आदान-प्रदान हुआ।

Corona Will Jointly Compete India Nepal Officials Talk Among Themselves :

दोनों देशों के वरिष्ठ अफसरों की हुई इस बैठक में निर्णय लिया गया कि दोनों देशों की सीमा में बने क्वारंटीन में रह रहे भारतीय व नेपाली नागरिकों की सुविधा का ख्याल रखा जाएगा। इसके अलावा सीमा पर सोशल डिस्टेंसिंग को दुरूस्त रखा जाएगा। दोनों देशों के जिम्मेदार कोरोना की सूचनाओं का समय से आदान-प्रदान करेंगे। इसके अलावा अफवाहों को लेकर दोनों देशों के जिम्मेदार अफसर कड़ा रुख रखेंगे। सीमा पर किसी भी नागरिक की आवाजाही नहीं होगी। केवल मालवाहक वाहनों को आने-जाने दिया जाएगा। मालवाहकों के चालकों को कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। यह भी निर्णय लिया गया कि चालकों की नो मेंस लैंड पर बने कोरोना हेल्थ हेल्प कैंप में स्क्रीनिंग होगी।

अफसरों ने कहा कि दोनों देशों का लॉकडाउन बढ़ता या घटता है तो तत्काल सूचना का एक-दूसरे को आदान-प्रदान करेंगे। इस बैठक में महराजगंज के डीएम डा. उज्ज्वल कुमार, एसपी रोहित सिंह सजवान, सीएमओ डा. एके श्रीवास्तव, एसडीएम नौतनवा जसधीर सिंह सीओ नौतनवा राजू कुमार साव कोतवाल निर्भय सिंह, रूपनदेही के जिलाधिकारी महादेव  पंत, एसपी तेज प्रसाद पोखरेल, बेलहिया कस्टम चीफ कमल भट्टराई, रवि पारिख आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

सोनौली । कोरोना की रोकथाम को लेकर गुरुवार को नेपाल के बेलहिया स्थित कस्टम कार्यालय में भारत व नेपाल के अधिकारियों की बैठक हुई। इसमें दोनों देशों की सीमा के अंदर बने क्वारंटीन की व्यवस्था को बेहतर बनाने, सूचनाओं को साझा करने के साथ सीमा पर सोशल डिस्टेसिंग को कायम रखने पर चर्चा हुई। कोरोना की रोकथाम को लेकर किए जा रहे प्रयासों को और बेहतर बनाने पर सुझावों का आदान-प्रदान हुआ। दोनों देशों के वरिष्ठ अफसरों की हुई इस बैठक में निर्णय लिया गया कि दोनों देशों की सीमा में बने क्वारंटीन में रह रहे भारतीय व नेपाली नागरिकों की सुविधा का ख्याल रखा जाएगा। इसके अलावा सीमा पर सोशल डिस्टेंसिंग को दुरूस्त रखा जाएगा। दोनों देशों के जिम्मेदार कोरोना की सूचनाओं का समय से आदान-प्रदान करेंगे। इसके अलावा अफवाहों को लेकर दोनों देशों के जिम्मेदार अफसर कड़ा रुख रखेंगे। सीमा पर किसी भी नागरिक की आवाजाही नहीं होगी। केवल मालवाहक वाहनों को आने-जाने दिया जाएगा। मालवाहकों के चालकों को कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। यह भी निर्णय लिया गया कि चालकों की नो मेंस लैंड पर बने कोरोना हेल्थ हेल्प कैंप में स्क्रीनिंग होगी। अफसरों ने कहा कि दोनों देशों का लॉकडाउन बढ़ता या घटता है तो तत्काल सूचना का एक-दूसरे को आदान-प्रदान करेंगे। इस बैठक में महराजगंज के डीएम डा. उज्ज्वल कुमार, एसपी रोहित सिंह सजवान, सीएमओ डा. एके श्रीवास्तव, एसडीएम नौतनवा जसधीर सिंह सीओ नौतनवा राजू कुमार साव कोतवाल निर्भय सिंह, रूपनदेही के जिलाधिकारी महादेव  पंत, एसपी तेज प्रसाद पोखरेल, बेलहिया कस्टम चीफ कमल भट्टराई, रवि पारिख आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।