कोरोना का कहर: दिल्ली में कोरोना संक्रमित डॉक्टर के संपर्क में आए 900 लोग, किए गए होम क्वारंटाइन

Corona's havoc
उत्तर प्रदेश: कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 102 तक पहुंची

नई दिल्ली। दिल्ली में एक कोरोना संक्रमित डॉक्टर के संपर्क में आने वाले 900 लोगों को दिल्ली सरकार ने होम क्वारंटाइन में रखा है। दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर गोपाल झा की पत्नी और बेटी की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। यह डॉक्टर साऊदी अरब से लौटने वाली एक कोरोना पॉजिटिव महिला के संपर्क में आए थे। दिल्ली सरकार ने महिला के संपर्क में आने वाले करीब 84 लोगों को क्वारंटाइन किया था।

Coronas Havoc 900 People In Contact With Corona Infected Doctor In Delhi Quarantined Home :

दिल्ली में गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 36 तक पहुंच गई है। वहीं दिल्ली की कोरोना पॉजिटिव केस नंबर 10 कम्युनिटी ट्रांसमिशन के मामले में बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर से भी खौफनाक मामला हो गया। दिल्ली के दिलशाद गार्डन में एक महिला 19 फरवरी को सऊदी अरब गई थी। इसके बाद 10 मार्च को 19 साल के बेटे के साथ दिल्ली लौटी थी।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया है कि यह महिला दिल्ली लौटने के बाद अपना इलाज कराने के लिए मौजपुर के मोहल्ला क्लीनिक गई थी। वहां महिला के संपर्क में आने वाले डॉक्टर और उनकी बेटी, पत्नी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। डॉक्टर के संपर्क में आए 800 लोगों को होम क्वारंटाइन में रखा गया है।

बताया जा रहा है कि होम क्वारंटाइन में रखे गए 900 लोगों में ज्यादातर वो लोग है जो मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराने के लिए डॉक्टर गोपाल झा के पास आए थे। बताया जा रहा है कि दिल्ली एयरपोर्ट पर महिला का भाई उसे रिसीव किया था। दो दिन बाद महिला को खांसी की शिकायत होती है और पहले नजदीक के एक डॉक्टर से दिखाने के बाद 15 मार्च को उसे जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। 17 मार्च को उसे कोरोना पॉजिटिव केस पाया गया।

इस महिला के भाई-मां को 20 मार्च को पॉजिटिव पाया गया। 21 मार्च को उसकी दो बेटियां भी कोरोना पॉजिटिव पाई गईं। जिस डॉक्टर को उस महिला ने सबसे पहले दिखाया था, 22 मार्च को वह भी पॉजिटिव पाया गया। अब ऐसे में सवाल उठता है कि जब इतने लोग पॉजिटिव मिले हैं तो इनसे और कितने लोग मिले होंगे।

नई दिल्ली। दिल्ली में एक कोरोना संक्रमित डॉक्टर के संपर्क में आने वाले 900 लोगों को दिल्ली सरकार ने होम क्वारंटाइन में रखा है। दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर गोपाल झा की पत्नी और बेटी की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। यह डॉक्टर साऊदी अरब से लौटने वाली एक कोरोना पॉजिटिव महिला के संपर्क में आए थे। दिल्ली सरकार ने महिला के संपर्क में आने वाले करीब 84 लोगों को क्वारंटाइन किया था। दिल्ली में गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 36 तक पहुंच गई है। वहीं दिल्ली की कोरोना पॉजिटिव केस नंबर 10 कम्युनिटी ट्रांसमिशन के मामले में बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर से भी खौफनाक मामला हो गया। दिल्ली के दिलशाद गार्डन में एक महिला 19 फरवरी को सऊदी अरब गई थी। इसके बाद 10 मार्च को 19 साल के बेटे के साथ दिल्ली लौटी थी। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया है कि यह महिला दिल्ली लौटने के बाद अपना इलाज कराने के लिए मौजपुर के मोहल्ला क्लीनिक गई थी। वहां महिला के संपर्क में आने वाले डॉक्टर और उनकी बेटी, पत्नी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। डॉक्टर के संपर्क में आए 800 लोगों को होम क्वारंटाइन में रखा गया है। बताया जा रहा है कि होम क्वारंटाइन में रखे गए 900 लोगों में ज्यादातर वो लोग है जो मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराने के लिए डॉक्टर गोपाल झा के पास आए थे। बताया जा रहा है कि दिल्ली एयरपोर्ट पर महिला का भाई उसे रिसीव किया था। दो दिन बाद महिला को खांसी की शिकायत होती है और पहले नजदीक के एक डॉक्टर से दिखाने के बाद 15 मार्च को उसे जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। 17 मार्च को उसे कोरोना पॉजिटिव केस पाया गया। इस महिला के भाई-मां को 20 मार्च को पॉजिटिव पाया गया। 21 मार्च को उसकी दो बेटियां भी कोरोना पॉजिटिव पाई गईं। जिस डॉक्टर को उस महिला ने सबसे पहले दिखाया था, 22 मार्च को वह भी पॉजिटिव पाया गया। अब ऐसे में सवाल उठता है कि जब इतने लोग पॉजिटिव मिले हैं तो इनसे और कितने लोग मिले होंगे।