कोरोना का कहर : पीएम मोदी बोले- कुछ लोग लॉकडाउन को लेकर गंभीर नहीं

pm modi
कोरोना मरीजो की संख्या 500 के पार, PM आज रात 8 बजे फिर करेंगे देश को संबोधित करेंगे

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित लोगों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर रविवार को पूरे देश में जनता कर्फ्यू का पालन किया गया। सोमवार की सुबह प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लोगों को जनता कर्फ्यू के प्रति गंभीर होने की सलाह दी।

Coronas Havoc Pm Modi Said Some People Are Not Serious About Lockdown :

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिए एक बार फिर लोगों से अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से खुद और अपने परिवार की सुरक्षा करें। लॉकडाउन के समय सरकार की तरफ से जारी किए निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। देश में अब तक कोरोना से 396 लोग संक्रमित हो चुके हैं। एक ही दिन 81 नए मामले सामने आए हैं जो एक बहुत बड़ी संख्या है।

प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य सरकारों से भी अपील करते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखा जाए। पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से रविवार को जनता कर्फ्यू का पालन करने को कहा था। उन्होंने देश की जनता से अपील की थी कि रविवार शाम 5 बजे घरों से बाहर निकलकर तालियां या थालियां बजाकर कोरोना से लड़ रहे लोगों का समर्थन करें।

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित लोगों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर रविवार को पूरे देश में जनता कर्फ्यू का पालन किया गया। सोमवार की सुबह प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लोगों को जनता कर्फ्यू के प्रति गंभीर होने की सलाह दी। पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिए एक बार फिर लोगों से अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से खुद और अपने परिवार की सुरक्षा करें। लॉकडाउन के समय सरकार की तरफ से जारी किए निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। देश में अब तक कोरोना से 396 लोग संक्रमित हो चुके हैं। एक ही दिन 81 नए मामले सामने आए हैं जो एक बहुत बड़ी संख्या है। प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य सरकारों से भी अपील करते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखा जाए। पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से रविवार को जनता कर्फ्यू का पालन करने को कहा था। उन्होंने देश की जनता से अपील की थी कि रविवार शाम 5 बजे घरों से बाहर निकलकर तालियां या थालियां बजाकर कोरोना से लड़ रहे लोगों का समर्थन करें।