कोरोना का कहर: लॉकडाउन में पुलिस ने वापस लौटाई पूरी बरात, दूल्हे समेत तीन लोगों को मिली इजाजत

marriage in lockdown
कोरोना का कहर: लॉकडाउन में पुलिस ने वापस लौटाई पूरी बरात, दूल्हे समेत तीन लोगों को मिली इजाजत

मेरठ। कोराना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। आज लॉकडाउन का तीसरा दिन है। लॉकडाउन के चलते लोगों की जिंदगी रुक गई है। ऐसे में सबसे ज्यादा वे लोग परेशान हैं, जिनकी शादी इस लॉकडाउन समय पड़ रही है। मेरठ का एक परिवार इसी समस्या में फंस गया है। गुरुवार को परिवार बारात लेकर जा रहा था। इस दौरान पुलिस ने बारात को रोक लिया। सिर्फ दूल्हे समेत तीन लोगों को जाने की इजाजत मिली। शेष को वापस लौटा दिया गया।

Coronas Havoc Three People Including The Groom Got Permission After The Police Returned In Lockdown :

हांलाकि प्रधानमंत्री की अपील पर कुछ लोगों ने तो शादी का कार्यक्रम आगे बढ़ा दिया। हालांकि कुछ लोग जो पूरी तैयारियां कर चुके थे। वह लाकडाउन के बीच में ही बरात लेकर निकल रहे हैं, लेकिन सुरक्षा कारणों से पुलिस ने इन्हें आगे नहीं जाने दे रही है। ऐसा ही मेरठ में हुआ जब गढ़मुक्तेश्वर से शामली जा रही बरात को पुलिस ने गढ़ रोड स्थित गांधी आश्रम के पास रोक लिया गया।

काफी देर तक गहमागहमी के बाद पुलिस ने दूल्हा समेत पिता और बहन को जाने दिया, बाकी बरात में शामिल 25 लोगों को बैरंग लौटा दिया गया। एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि बारातियों को समझाकर लौटा दिया है। सिर्फ दूल्हा और उसकी पिता व बहन को आगे जाने की अनुमति दी गई है। उन्होंने लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील भी की है।

मेरठ। कोराना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। आज लॉकडाउन का तीसरा दिन है। लॉकडाउन के चलते लोगों की जिंदगी रुक गई है। ऐसे में सबसे ज्यादा वे लोग परेशान हैं, जिनकी शादी इस लॉकडाउन समय पड़ रही है। मेरठ का एक परिवार इसी समस्या में फंस गया है। गुरुवार को परिवार बारात लेकर जा रहा था। इस दौरान पुलिस ने बारात को रोक लिया। सिर्फ दूल्हे समेत तीन लोगों को जाने की इजाजत मिली। शेष को वापस लौटा दिया गया। हांलाकि प्रधानमंत्री की अपील पर कुछ लोगों ने तो शादी का कार्यक्रम आगे बढ़ा दिया। हालांकि कुछ लोग जो पूरी तैयारियां कर चुके थे। वह लाकडाउन के बीच में ही बरात लेकर निकल रहे हैं, लेकिन सुरक्षा कारणों से पुलिस ने इन्हें आगे नहीं जाने दे रही है। ऐसा ही मेरठ में हुआ जब गढ़मुक्तेश्वर से शामली जा रही बरात को पुलिस ने गढ़ रोड स्थित गांधी आश्रम के पास रोक लिया गया। काफी देर तक गहमागहमी के बाद पुलिस ने दूल्हा समेत पिता और बहन को जाने दिया, बाकी बरात में शामिल 25 लोगों को बैरंग लौटा दिया गया। एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि बारातियों को समझाकर लौटा दिया है। सिर्फ दूल्हा और उसकी पिता व बहन को आगे जाने की अनुमति दी गई है। उन्होंने लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील भी की है।